भारत

खौफनाक मामला: मोबाइल चोरी के संदेह में युवक की पीट-पीट कर हत्या, चश्मदीद ने पुलिस को दिया ये बयान

Janta se Rishta
30 Aug 2020 6:24 PM GMT
खौफनाक मामला: मोबाइल चोरी के संदेह में युवक की पीट-पीट कर हत्या, चश्मदीद ने पुलिस को दिया ये बयान
x

जनता से रिश्ता वेबडेस्क | नई दिल्ली. दिल्ली के नारायणा में मोबाइल चोरी करने के संदेह में एक 23 साल के युवक की पीट-पीट कर हत्या कर दी गई. यह घटना शुक्रवार सुबह की है. मृतक के पिता का कहना है कि मेरा बेटा बड़े भाई की मदद के लिए गुरुग्राम जा रहा था, लेकिन रास्ते में उसकी हत्या कर दी गई. दिल्ली पुलिस मामले की जांच में जुट गई है. शुरुआती जांच में दिल्ली पुलिस ने कहा है कि मृतक लड़के के खिलाफ कई मामले पहले से दर्ज हैं. इसके बाद भी दिल्ली पुलिस हर तरह से जांच कर रही है. दिल्ली पुलिस के मुताबिक इस घटना में शामिल चार लड़कों को गिरप्तार कर लिया गया है.

पेड़ से बांध कर पीट-पीट कर मार डाला
हिंदुस्तान टाइम्स की एक रिपोर्ट के मुताबिक मृतक राहुल के पिता ने आरोप लगाया है कि उनके बेटे को पेड़ से बांधकर पीट-पीट कर मार डाला गया. इस घटना के बाद पश्चिमी दिल्ली के डीसीपी दीपक पुरोहित ने कहा है कि चार लोगों को नरेना के एक पार्क में कथित रूप से पीटने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है. पुलिस को शुक्रवार सुबह करीब 6 बजे कॉल आया था. अस्पताल ले जाते समय उसने दम तोड़ दिया. उसे कथित तौर पर लकड़ी के डंडे और लोहे की छड़ से मारा गया था. गिरफ्तार आरोपी की पहचान इश्तिहार, अनीस, मुश्ताक और उसके भाई शिराज अहमद के रूप में हुई है.'दिल्ली पुलिस के मुताबिक युवक पेड़ के नीचे पड़ा हुआ मिला था.

दिल्ली पुलिस जुटी तफ्तीश में

दिल्ली पुलिस के मुताबिक युवक पेड़ के नीचे पड़ा हुआ मिला था. अस्पताल ले जाते समय उसकी मौत हो गई. मृतक के शरीर पर चोट के कई निशान हैं. घटनास्थल से रस्सी, सफेद मफलर बरामद की गई है. सभी एंगल से जांच की जा रही है. मृतक की पहचान कीर्ति नगर निवासी राहुल के तौर पर हुई है.

पिता ने लगाया ये आरोप
हालांकि, राहुल के पिता रघुबीर के अनुसार राहुल के साथ पहले भी मारपीट की गई थी. पिता ने कहा कि झगड़े के दौरान बंधे होने के कारण उनके बेटे की बांह दो महीने पहले टूट गई थी. उन्होंने कहा कि जब भी मोहल्ले में अपराध की कोई घटना होती है तो पुलिस उसे पकड़ लेती थी. रघुबीर ने कहा कि राहुल झगड़े में शामिल होगा, लेकिन कभी भी चोरी में नहीं, क्योंकि वह एक सुरक्षा गार्ड का बेटा था.

मृतक की आपराधिक इतिहास का दावा
दिल्ली पुलिस का कहना है कि राहुल का पूर्व में भी आपराधिक इतिहास रहा है. राहुल पर दर्जनों मामले दर्ज हैं. लेकिन, उस पर फोन चुराने के आरोप के बारे में कोई सबूत नहीं मिले थे. कई बार पुलिस उसको लताड़ लगाई थी.

चश्मदीद ने पुलिस को दिया यह बयान
वहीं, घटना के वक्त मौजूद एक शख्स ने पुलिस का कहा है कि जब वह शुक्रवार को सुबह पांच बजे उठा तो देखा कि चार लड़के उस लड़के को बुरी तरह से पीट रहे थे. उसको घसीट कर पास के पार्क में ले जा रहे थे. शख्स ने पुलिस को बताया कि उसके मना करने के बाद भी गिरफ्तार सभी शख्स ने लड़के को नहीं छोड़ा. उस शख्स ने पुलिस को बताया कि राहुल ने अपने एक और साथी के साथ मिलकर आरोपियों में से एक की मोबाइल चोरी की थी. राहुल का दूसरा साथी भाग निकला. उस शख्स की निशानदेही पर ही पुलिस ने चारों लड़कों को गिरफ्तार किया है.

https://jantaserishta.com/news/sister-was-murdered-after-force-after-19-years-brother-took-revenge-for-such-a-crime/

Next Story
© All Rights Reserved @Janta Se Rishta
Share it