भारत

कलेक्टर की फेक ID: दोस्तों-करीबियों से मांगे लाखों रुपये...ऐसे हुआ भंडाफोड़

Janta se Rishta
17 Aug 2020 1:39 PM GMT
कलेक्टर की फेक ID: दोस्तों-करीबियों से मांगे लाखों रुपये...ऐसे हुआ भंडाफोड़
x

जनता से रिश्ता वेबडेस्क। हैकर्स और साइबर अपराधियों ने उत्तर प्रदेश के आईएएस अफसरों को भी अपना निशाना बनाना शुरू कर दिया है. शाहजहांपुर के जिलाधिकारी भी साइबर क्राइम का शिकार हुए हैं. हैकर्स ने उनकी फर्जी फेसबुक आईडी बनाकर उनके दर्जनों करीबियों से रुपयों की मांग कर डाली. फिलहाल पुलिस ने जिलाधिकारी की फर्जी फेसबुक आईडी बनाने वाले आरोपी को पकड़ने के लिए एक टीम को ओडिशा रवाना कर दिया है. दरअसल, दो दिन पहले साइबर अपराधी ने शाहजहांपुर के जिलाधिकारी इंद्र विक्रम सिंह की उनके नाम से उनकी एक फोटो लगाकर एक फर्जी फेसबुक आईडी तैयार की, जिसके बाद उनके दर्जनों फेसबुक मित्रों और करीबियों से रुपये मांगे गए.

जिलाधिकारी को जैसे ही इसके बारे में पता चला कि उनकी फर्जी आईडी से लोगों से पैसे मांगे जा रहे हैं तो उन्होंने इसकी शिकायत पुलिस अधीक्षक से की, जिसके बाद आनन-फानन में फर्जी फेसबुक आईडी को ब्लॉक कर दिया गया.

साइबर सेल की मदद से आरोपी का पता लगाया गया तो डीएम की फर्जी फेसबुक आईडी बनाने वाला ओडिशा का निकला. आरोपी की गिरफ्तारी के लिए शाहजहांपुर पुलिस ने अपनी एक टीम ओडिशा के लिए रवाना कर दी है. उम्मीद है कि जल्द ही गिरफ्तारी हो जाएगी. इसके अलावा पुलिस द्वारा लोगों से अपील की है कि किसी भी तरह से अपने बैंक अकाउंट की जानकारी साझा ना करें.

शाहजहांपुर के एसपी एस आनंद ने बताया कि जब से लॉकडाउन हुआ, उसके बाद से इस तरह के मामले कई जिलों में सामने आए हैं. जिलाधिकारी की एक फेक आईडी बनाकर उसमें पैसे मांगे गए हैं. फर्जी फेसबुक आईडी को ब्लॉक कर दिया गया. उन्होंने कहा कि साइबर सेल की मदद से आरोपियों का पता लगाया गया तो डीएम की फर्जी फेसबुक आईडी बनाने वाला ओडिशा का निकला. आरोपी की गिरफ्तारी के लिए पुलिस शाहजहांपुर से ओडिशा के लिए रवाना हो गई है. आरोपियों की जल्द ही गिरफ्तारी हो जाएगी. इसके अलावा पुलिस द्वारा लोगों से अपील की है कि किसी भी तरह से अपने बैंक अकाउंट की जानकारी साझा ना करें.

https://jantaserishta.com/news/tomorrow-will-be-pora-teeja-tihar-nandia-baila-zone-for-selfie/

Next Story
© All Rights Reserved @Janta Se Rishta
Share it