मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने जमीन में बैठकर ‘धुसका-पताल चटनी’ का लिया आनंद | जनता से रिश्ता

जनता से रिश्ता वेबडेस्क। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने आज अपने बलरामपुर जिले के प्रवास के दौरान सामरी विधायक चिन्तामणि महाराज के घर में  जमीन में बैठकर सादगी के साथ सरई के पत्तल में छत्तीसगढ़ी व्यंजन धुसका और पताल की चटनी का आनंद लिया। मुख्यमंत्री को जमीन पर बैठकर भोजन करते देख सभी लोगों ने उनकी छत्तीसगढ़ी संस्कृति के प्रति लगाव और सरलता की प्रशंसा की।

मुख्यमंत्री आज बलरामपुर जिले के प्रवास के दौरान सामरी विधानसभा क्षेत्र के श्रीकोट पहुंचे थे। वहां आयोजित कार्यक्रम के बाद सामरी के विधायक चिन्तामणि महाराज के घर आये। स्वास्थ्य मंत्री टी.एस. सिंहदेव, सरगुजा विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष खेलसाय सिंह भी उनके साथ थे। घर पहुंचने पर चिन्तामणि महाराज ने मुख्यमंत्री से भोजन ग्रहण करने का आग्रह किया। उन्होंने बताया कि भोजन के साथ छत्तीसगढ़ी व्यंजन धुसका भी विशेष रूप से बनाया गया है। चिन्तामणि ने भोजन में धुसका के साथ पताल चटनी, पूड़ी, पत्ता गोभी की सब्जी परोसी। मुख्यमंत्री बघेल ने बड़े सादगी और सरलता के साथ जमीन में बैठकर सरई पत्तल में परोसे गए भोजन को  चाव से ग्रहण किया।