Top
COVID-19

छत्तीसगढ़: लापरवाही की हद! मुक्तिधाम में कोरोना पॉजिटिव मृतक का शव देख सबके उड़े होश...बेटी बोली- ये मेरे पिताजी नहीं...

Janta se Rishta
5 Sep 2020 9:28 AM GMT
छत्तीसगढ़: लापरवाही की हद! मुक्तिधाम में कोरोना पॉजिटिव मृतक का शव देख सबके उड़े होश...बेटी बोली- ये मेरे पिताजी नहीं...
x

जनता से रिश्ता वेबडेस्क। भिलाई जुनवानी स्थित शंकराचार्य कोविड अस्पताल में कोरोना पॉजिटिव मृतक का शव बदलने का सनसनीखेज मामला सामने आया है। शव बदलने की भनक लगते ही परिजनों ने मुक्तिधाम में हंगामा मचाना शुरू कर दिया। इधर, शव सौंपने में लापरवाही उजागर होने के बाद विभागीय अधिकारियों के होश उड़ गए। जानकारी के मुताबिक तितुरडीह कर्मचारी नगर निवासी 52 वर्षीय दशरथ मारकंडे को कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद भिलाई जुनवानी स्थित शंकराचार्य कोविड अस्पताल में भर्ती कराया गया था। वे तीन दिन से भर्ती थे, जहां उसकी मौत हो गई। शंकराचार्य कोविड अस्पताल के कर्मचारियों ने मृतक दशरथ मारकंडे के परिजनों को इसकी जानकारी दी और शव को परिजनों को सौंप दिया।

अस्पताल से शव मिलने के बाद परिजन अंतिम संस्कार के लिए सीधे शिवनाथ नदी मुक्तिधाम लेकर पहुंचे। अंतिम संस्कार की पूरी तैयारी हो चुकी थी। इसी बीच मृतक दशरथ मारकंडे की बेटी ने अपने पिता के अंतिम दर्शन करने की इच्छा जताई। बेटी की इच्छा पर पीपीई किट के भीतर से ही चेहरा दिखाया गया। चेहरा देखते ही बेटी के होश उड़ गए। मुक्तिधाम में बेटी चिल्लाकर बोली ये मेरे पिता नहीं हैं। इसके बाद अंतिम संस्कार के लिए पहुंचे लोगों ने पास जाकर देखा तो जो शव अस्पताल ने दिया था वह दशरथ मारकंडे का नहीं दूसरे पुरुष का था। इसके बाद मृतक दशरथ मारकंडे के परिजनों ने मुक्तिधाम में हंगामा करना शुरू कर दिया।

शव देने में हुई लापरवाही सामने आने के बाद परिजनों का गुस्सा फूट पड़ा। परिजन शव को लौटाने वापस शंकराचार्य कोविड अस्पताल पहुंचे। लेकिन अस्पताल के कर्मचारियों ने मृतक के परिजनों को भीतर घुसने ही नहीं दिया। गुस्साए परिजनों ने अस्पताल के बाहर ही बवाल मचाना शुरू कर दिया। मौके पर पहुंची पुलिस ने परिवार के सदस्यों को समझाइश दी। इसके बाद जाकर मामला शांत हुआ। हालांकि बवाल के बाद अस्पताल प्रसाशन ने शव को ढूंढ कर परिजनों को सौंपा। मिली जानकारी के अनुसार अस्पताल प्रबंधन ने मारकंडे परिवार को जो शव दिया था, वह भिलाई के बीएससपी कर्मचारी विजय कुमार मुखर्जी का था।

सोर्स न्यूज़-

https://jantaserishta.com/news/central-health-department-team-reached-raipur-kovid-19-hospitals-are-inspected/

https://jantaserishta.com/news/sapna-soni-the-teacher-of-the-fort-was-awarded-the-national-award-by-president-ramnath-kovind/

Next Story
© All Rights Reserved @Janta Se Rishta
Share it