भारत

बिहार सियासत : इस मंत्री ने किया दावा, कहा- हमारे संपर्क में हैं तेजस्वी यादव से नाराज RJD के कई विधायक...

Janta se Rishta
20 Aug 2020 3:33 PM GMT
बिहार सियासत : इस मंत्री ने किया दावा, कहा- हमारे संपर्क में हैं तेजस्वी यादव से नाराज RJD के कई विधायक...
x

जनता से रिश्ता वेबडेस्क, पटना । महागठबंधन और आरजेडी में टूट पर बिहार के स्वास्थ्य मंत्री और बीजेपी नेता मंगल पांडेय ने गुरुवार को प्रतिक्रिया देते हुए कहा, " यह तो ट्रेलर है, पिक्चर अभी बांकी है. विधान सभा चुनाव के अधिसूचना के पहले ही आरजेडी धराशायी होने लगा है. यही नहीं गुरुवार को आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद के समधी ने भी आरजेडी को बाय-बाय कर एनडीए पर भरोसा जताया है." उन्होंने कहा, " चंद्रिका राय के अलावे तेजस्वी यादव से खफा आरजेडी के अन्य बागी विधायक भी एनडीए के संपर्क में हैं. ऐसे विधायकों की लंबी लिस्ट है. जल्द ही वो सभी जेडीयू और बीजेपी का दामन थामेंगे. इसमें आरजेडी के कई बड़े नेता भी शामिल हैं. वहीं दूसरी ओर महागठबंधन में शुरू से ही अपमानित पूर्व मुख्यमंत्री जीतनराम मांझी की पार्टी ने भी महागठबंधन से दूरी बना नेता प्रतिपक्ष की उम्मीदों पर पानी फेरने का काम किया है."

स्वास्थ्य मंत्री ने कहा, " आरजेडी में यह बिखराव नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव के अहंकार के कारण है. सच यह है कि वहां लोगों को फजीहत झेलना पड़ रहा है. नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव की ओर से लगातार किए जा रहे अनर्गल प्रलाप के कारण उनके विधायकों को क्षेत्र में जनता के विरोध का सामना करना पड़ रहा है." उन्होंने कहा, " बाढ़ हो या कोरोना दोनों के ही संकटकाल में लगातार झूठी बातें बोलने के कारण जनता में नाराजगी बढ़ रही है और उसका खामियाजा विधायकों को भुगतना पड़ रहा है. मतदाताओं की नाराजगी को ही भांपकर विधायकों में आरजेडी छोड़ने की होड़ मची है. यह बात अलग है कि पिछले दिनों आरजेडी ने अपने तीन विधायकों को पार्टी से निष्कासित कर दिया. लेकिन निष्कासित विधायक निष्कासन से पहले ही मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और एनडीए के प्रति आस्था जता चुके थे."

स्वास्थ्य मंत्री ने कहा, " नेता प्रतिपक्ष भले ही अपने को भावी मुख्यमंत्री समझते हों, लेकिन महागठबंधन के साथी दल और उनकी पार्टी के विधायक उन्हें इसके काबिल नहीं समझते हैं. यही कारण है कि टुकड़े-टुकड़े में विधान पार्षद और विधायक आरजेडी को अलविदा कह रहे हैं. आरजेडी के विधायकों और तथाकथित महागठबंधन में शामिल दलों की लगातार उपेक्षा हो रही थी." उन्होंने कहा, " जीतन राम मांझी की पार्टी ‘हम’ ने जहां स्पष्ट आरोप लगाया है कि तेजस्वी तानाशाह की तरह व्यवहार करते हैं और इनको राजनीति का कोई ज्ञान नहीं है. वहीं लंबे अरसे से लालू प्रसाद के साथ साया की तरह रहे उनके समधी ने भी आज क्लीयर कर दिया है कि आरजेडी में सिर्फ टूट ही नहीं हो रही, बल्कि आरजेडी का हाल खस्ता है. यही कारण है कि दोनों भाई चुनाव जीतने के लिए सुरक्षित सीट की तलाश कर रहे हैं."

Next Story
© All Rights Reserved @Janta Se Rishta
Share it