Ashes 2019 Eng vs Aus: पहली बार बीच मैच में बदला खिलाड़ी, इस प्लेयर ने रचा इतिहास

जनता से रिश्ता वेबडेस्क :-  नई दिल्ली। Ashes 2019 Eng vs Aus: टेस्ट क्रिकेट के 145 वर्ष के इतिहास में पहली बार ऐसा हुआ कि बीच मैच में कोई खिलाड़ी चोटिल होकर मैच से बाहर हो गया और उनकी जगह टीम में किसी अन्य खिलाड़ी की एंट्री हुई। पहले ऐसा नहीं होता था। एशेज 2019 के दूसरे टेस्ट मैच की दूसरी पारी में ऑस्ट्रेलिया के बल्लेबाज स्टीव स्मिथ की कनपटी पर जोफ्रा आर्चर की गेंद लगी थी और अब वो लॉर्ड्स टेस्ट से बाहर हो गए हैं। उनके बाहर होने के बाद बीच मैच में ऑस्ट्रेलिया की टीम में मार्कस लाबुशेन को शामिल किया गया है।

क्रिकेट में नए नियम के अनुसार अगर किसी मैच के दौरान कोई खिलाड़ी घायल (सिर पर चोट) हो जाता है तो उसकी जगह दूसरे खिलाड़ी को टीम में शामिल किया जा सकता है। इस नियम के अनुसार बल्लेबाजी की जगह बल्लेबाज और गेंदबाजी की जगह गेंदबाज ही टीम में शामिल किया जा सकता है। अब स्टीव स्मिथ की जगह मार्कस लाबुशेन को शामिल किया गया है जो एक बल्लेबाज हैं। टेस्ट क्रिकेट के इतिहास में मार्कस लाबुसेन पहले ऐसे खिलाड़ी बन गए हैं जो बीच मैच में किसी खिलाड़ी की जगह टीम में शामिल किए गए। क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के मुताबिक लॉर्ड्स टेस्ट मैच के आखिरी दिन जब स्टीव स्मिथ उठे तो उनके सिर में दर्द था और वो पूरी तरह से होश में नहीं थे। इसके बाद उनकी जांच की गई तो पाया गया कि उनकी हालत पहले से भी खराब है। उनकी इस स्थिति के बाद वो टीम से बाहर हो गए। इसके बाद मैच रेफरी से स्मिथ की जगह अन्य खिलाड़ी की रिप्लेसमेंट के लिए आवेदन किया गया। रेफरी ने इसकी मंजूरी दे दी और लाबुशेन को टीम में जगह दी गई।

गौरतलब है कि किसी खिलाड़ी के सिर पर चोट लगने के बाद अब उसकी जगह दूसरे खिलाड़ी को खिलाया जा सकता है। ये नियम विश्व टेस्ट चैंपियनशिप शुरू होने के साथ ही लागू हुआ था। स्मिथ के इस टेस्ट से बाहर होने के बाद उनके अगले टेस्ट में खेलने पर सस्पेंस बन गया है। स्मिथ ने पहले टेस्ट मैच के दौरान इंग्लैंड के खिलाफ दोनों पारियों में शतक लगाया था। इसके बाद दूसरे टेस्ट मैच की पहली पारी में उन्होंने 92 रन की पारी खेली थी। वो अपना शतक पूरा करने से सिर्फ आठ रन से चूक गए थे। अपनी इस पारी के बाद स्टीव स्मिथ एशेज में लगातार सात मैचों में 50 या उससे ज्यादा स्कोर करने वाले पहले खिलाड़ी बने थे। वहीं स्मिथ ने बैन के 16 महीने के बाद टेस्ट क्रिकेट में वापसी की थी। वहीं लाबुसेन की बात करें तो उन्होंने ऑस्ट्रेलिया के लिए अब तक कुल पांच टेस्ट मैच खेले हैं जिसमें उन्होंने 26.25 की औसत से 210 रन बनाए हैं। टेस्ट में अब तक इनके नाम पर एक भी शतक नहीं है। उन्होंने क्रिकेट के सबसे लंबे प्रारूप में अब तक सिर्फ एक अर्धशतक लगाया है।