छत्तीसगढ़

रायपुर में 298 संक्रमित, प्रदेश में मिले रिकार्ड 1136 नए केस...पिछले 24 घंटे में 9 मौतें भी हुईं

Janta se Rishta
25 Aug 2020 6:14 AM GMT
रायपुर में 298 संक्रमित, प्रदेश में मिले रिकार्ड 1136 नए केस...पिछले 24 घंटे में 9 मौतें भी हुईं
x

जसेरि रिपोर्टर
रायपुर।
राजधानी समेत पूरे प्रदेश में सोमवार को कोरोना के 298 और प्रदेश में 1136 केस आए हैं। रायगढ़ में भी पहली बार 125 मरीज मिले हैं। डॉक्टरों का कहना है कि कोरोना पर मौसम का असर फिलहाल नहीं है, यह इसका उदाहरण है। रायपुर में 4, कोरबा व कांकेर में एक-एक समेत 6 मरीजों की मौत भी हुई है। नए मरीजों के बाद प्रदेश में मरीजों की संख्या 22054 व रायपुर में 7663 पहुंच गई है। विभिन्न अस्पतालों से 493 मरीजों को डिस्चार्ज किया गया। एक्टिव केस 8424 है। जबकि मृतकों की संख्या 204 पहुंच गई है। रायपुर में 109 कोरोना मरीजों की जान गई है, जो कि प्रदेश में आधे से ज्यादा है। प्रदेश में कोरोना का संक्रमण कम नहीं हो रहा है। केवल 79 दिनों में 207 से ज्यादा मौत भी स्वास्थ्य विभाग के लिए चिंता की बात है। रोजाना औसतन 3 लोगों की जान जा रही है। एम्स में 3 दिनों तक लैब को सैनिटाइज करने के कारण जांच बंद रही। वहां रोजाना 1200 से 1500 सैंपलों की जांच हो रही है। सोमवार से जांच शुरू हो गई है। सीनियर गेस्ट्रो सर्जन डॉ. देवेंद्र नायक व चेस्ट एक्सपर्ट डॉ. आरके पंडा का कहना है कि कोरोना का मौसम पर कोई असर नहीं है। 45 डिग्री तापमान में भी मरीज मिलते रहे। बारिश में भी मिल रही है। ठंड में भी नए मरीज आ सकते हैं। इस समय प्रदेश में पीक आ गया है, ऐसा कहना गलत होगा।
एनएसयूआई प्रदेश अध्यक्ष संक्रमित, एक दिन पहले सीएम और कांग्रेस अध्यक्ष से मिले थे : कांग्रेस के छात्र संगठन एनएसयूआई के प्रदेश अध्यक्ष आकाश शर्मा कोविड पॉजिटिव पाए गए हैं। खुद आकाश से इसकी जानकारी सार्वजनिक कर संपर्क में आए लोगों को जांच करवाने की अपील की। हालांकि एक दिन पहले रविवार को आकाश सिविल लाइंस स्थित मुख्यमंत्री आवास में सीएम भुपेश बघेल के जन्म दिन के कार्यक्रम में शामिल हुए थे। सीएम से मुलाकात की थी। कांग्रेस पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष मोहन मरकाम से साथ आकाश का छत्तीसगढ़ी लोक नृत्य राउत नाचा करते हुए वीडियो भी सामने आया था, यह वीडियो भी रविवार का ही था।
होम आइसोलेशन वालों को दवा, मास्क व काढ़ा, पल्स-बुखार नापने की मशीन मुफ्त : रायपुर में होम आइसोलेशन में रहने वाले कोरोना पॉजिटिव मरीजों को कोरोना स्क्रीनिंग किट दी जा रही है। इसमें इम्यून सिस्टम को बढ़ाने की दवा के साथ आयुर्वेदिक काढ़ा भी दे रहे हैं। मरीज की घर पर सेहत की निगरानी हो इसलिए मुफ्त सैनिटाइजर व कपड़े के मास्क के साथ थर्मल गन और पल्स नापने के लिए प्लस ऑक्सीमीटर भी दिया जा रहा है। दोनों मशीनों को मरीज के ठीक होने के बाद स्वास्थ्य विभाग को लौटाना पड़ेगा। सीएमएचओ डॉ. मीरा बघेल ने बताया कि अभी तक राजधानी में 150 लोग होम आइसोलेशन में रह चुके हैं। उनमें से 75 ठीक हो गए हैं। स्वास्थ्य विभाग द्वारा होम आइसोलेशन रहने वाले मरीजों के उपयोग व 5 दिन के डोज कैसे लेते हैं इसकी जानकारी दी जाती है। इसमें पैरासिटामोल 500 एमजी बुखार के लिए 10 टेबलेट, पेट मे जलन व एसीडिटी के लिए ओमेप्राजोल 200 एमजी 10 टेबलेट, हाईड्रॉक्सिलिनक्लोक्विन 200 एमजी 12 टेबलेट, कैल्शियम, विटामिन डी व विटामिन सी की 10-10 टेबलेट, एजिथ्रो माइसिन 06, आयुष काढ़ा 1 पैकेट, सैनिटाइजर, कपड़ा मास्क 3 पीस के साथ पल्स ऑक्सीमीटर व थर्मल गन देते हैं।
रायपुर में कोरोना संक्रमण को देखते हुए अभी नहीं बढ़ाया जाएगा दुकानों का समय : लगातार बढ़ते कोरोना के मामले को देखते हुए जिला प्रशासन ने फिलहाल दुकानों का समय बढ़ाने से इन्कार कर दिया है। अभी सुबह नौ से शाम सात बजे तक दुकानें खोले रखने का समय है। इसे रात नौ बजे तक करने की तैयारी थी। साथ ही रविवार को पूर्ण लॉकडाउन हटाने का प्रस्ताव भी था, पर प्रशासन फिलहाल इस फैसले से हट गया है। डॉ.एस.भारतीदासन ने कोरोना संक्रमण की रोकथाम और नियंत्रण के लिए एक्टिव सर्विलांस दलों का पूर्ण सहयोग करने की अपील की है।

कोरोना की जानकारी छिपाने पर अब ऑनस्पॉट कार्रवाई

राजधानी में लगातार बढ़ रहे कोरोना के संक्रमण को देखते हुए 24 अगस्त को जिला प्रशासन सख्ती के मूड में आ गया। देर शाम कलेक्टर डॉ. एस. भारतीदासन ने नगर निगम और जिला पंचायत के अधिकारियों के साथ इस मुद्दे पर लंबी बैठक ली। इसके बाद उन्होंने स्पष्ट कर दिया कि अब यदि घर-घर सर्वे के लिए जाने वाले एक्टिव सर्विलांस टीम के साथ किसी ने दुव्र्यवहार किया या फिर कोरोना से संबंधित जानकारी छिपालने की कोशिश भी को तो उनके खिलाफ ऑनस्पॉट सख्त कार्रवाई की जाए। कलेक्टर ने यह आदेश 26 अगस्त से शुरू हो रहे पल्स ऑक्सीमीटर जांच अभियान को ध्यान में रखते हुए जारी कर दिया। इस ऑनस्पॉट कार्रवाई में सर्विलांस टीम को सिर्फ अपने मोबाइल से ही प्रशासन के वॉट्सअप ग्रुप में जाकर संबंधित व्यक्ति, वार्ड, मोहल्ला और उनके मकान के आसपास का लैंडमार्क का उल्लेक करते हुए संक्षिप्त जानकारी के साथ सूचना देना होगा।

Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta