शास्त्रों के अनुसार कौए के ये इशारे आपके भविष्य के बारे में बताते है

नई दिल्ली जनता से रिश्ता वेबडेस्क :   हिन्दू शास्त्रों के अनुसार कौए को शनिदेव का वाहन माना जाता है। इसी कारण हिन्दू परंपरा में भी कौए को बहुत शुभ माना जाता हैं। अमुवन कौए को देखते तो सभी है मगर ये बहुत कम लोग ही जानते होंगे को समझकर आप समय से पहले सावधान हो सकते हैं और आने वाले शुभ समय का और भी अच्छे से आनंद ले सकते हैं आइये जानते हैं इन इशारों के बारे में।  यदि शनिवार के दिन घर में अचानक कौआ आकर बोलने लगे तो यह अच्छा संकेत माना जाता है। माना जाता है कि घर में मेहमान तथा अन्य कोई खुशी आने वाली है परंतु बिलकुल काले रंग के कोए का इस प्रकार बोलना कोई फल नहीं देता।लड़की का विवाह
यदि किसी कुंआरी लड़की के सिर के ऊपर से कौआ उड़कर निकल जाता है तो इसको अच्छा संकेत माना जाता है। मान्यता है कि यदि ऐसा होता है तो इसका मतलब होता है कि लड़की का विवाह जल्दी होने वाला है। इस प्रकार से ये कौए के इशारे हमारे जीवन के आने वाले अच्छे समय के बारे में बहुत कुछ बताते हैं।

पुत्र होने का संकेत

यदि किसी गर्भवती महिला पर कौआ वीट कर देता है तो माना जाता है कि उसको पुत्र होगा। इसी प्रकार से यदि किसी विवाहित महिला पर कौआ वीट कर देता है तो यह माना जाता है कि इस महिला की गोद जल्दी ही भर जायेगी।

नौकरी में लाभ

यदि नौकरी की तलाश में निकले किसी व्यक्ति को कौआ किसी गंदे स्थान पर बैठा दिखाई पड़ता है तो यह उस व्यक्ति के लिए शुभ माना जाता है। मान्यता है कि ऐसा दृश्य देखने के बाद व्यक्ति की नौकरी के चांस बढ़ जाते हैं।

विवाह व कौए का संबंध
किसी समारोह या विवाह की मिठाइयों में से यदि कौआ मिठाई लेकर उड़ जाता है तो इस संकेत को शुभ माना जाता है। माना जाता है कि अब समारोह बिना किसी रूकावट के पूरा होगा तथा घर में तरक्की आएगी।