विराट अपहरण कांड: पकड़ाए पांचवे आरोपी ने किया खुलासा, पुलिस को गुमराह करने रामानुज गंज में खड़ी की थी डस्टर कार

जनता से रिश्ता वेबडेस्क:-  बिलासपुर. विराट अपहरण कांड मामले में पकड़ाए पांचवे आरोपी राज किशोर को पुलिस ने कोर्ट में पेश किया। एक और खुलासा हुआ कि उसने पुलिस को गुमराह करने के लिए अपहरण में उपयोग की गई डस्टर कार को रामानुजगंज में छिपाया था। शनिवार देर रात पुलिस ने कार बरामद कर ली। विराट अपहरण कांड में पकड़े गए पांचवे आरोपी राजकिशोर पिता शत्रुघन सिंह ने पूछताछ में पुलिस को बताया कि विराट के अपहरण के बाद वैगनआर कार से विराट को निकाल करवह अपनी डस्टर कार सीजी 04 के आर 5232 में बैठाकर घर ले गया था।

21 मई को वह रामानुजगंज चला गया और फिरौती के लिए विराट के पिता को कॉल किया। इसके बाद वह कार लेकर बिहार चला गया था। 23 अप्रैल को कार लेकर वह फिर से रामानुजगंज पहुंचा और बस स्टैण्ड के पीछे सुलभ काम्प्लेक्स के पास खाली जगह पर कबाड़ वाहनों के बीच उसने अपनी कार भी खड़ी कर दी थी, ताकि पुलिस को कार मिलने पर यह लगे कि आरोपी रामानुजगंज में हैं। इसके बाद वह फिर बिहार चला गया था। शनिवार देर रात पुलिस राज किशोर को लेकर रामानुजगंज पहुंची और कार को बरामद किया।