विंडीज दौरे के लिए टीम इंडिया का चयन आज

जनता से रिश्ता वेबडेस्क:- वेस्टइंडीज दौरे के लिए भारतीय टीम के चयन के लिए रविवार को मुंबई में बैठक होगी। पहले यह बैठक 19 जुलाई को होनी था लेकिन प्रशासकों की समिति (सीओए) और भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) के बीच नए नियम को लेकर अस्पष्टता के कारण इसे टाल दिया गया था। इस बीच पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने विंडीज दौरे से खुद को अलग कर लिया है।

चयन का नया नियम : एमएसके प्रसाद की अध्यक्षता वाली पांच सदस्यीय सीनियर चयन समिति वानखेड़े स्टेडियम में बैठक के बाद दिन में करीब दो बजे प्रेस कांफ्रेंस करके टीम का ऐलान करेगी।

सीओए ने एक नया नियम निकाला है, जिसके तहत चयन समिति का समन्वयक अब सचिव नहीं होगा। मुख्य चयनकर्ता के ऊपर ही सभी जिम्मेदारियां होंगी। वहीं, चयन समिति को किसी भी तरह की मंजूरी के लिए सचिव या बोर्ड के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) की मंजूरी की जरूरत नहीं होगी। पहले चयन समिति को टीम चयन या वैकल्पिक खिलाड़ियों को चुनने के लिए सीईओ या सचिव की मंजूरी चाहिए होती थी। इसी नए नियम के असंजस के कारण बीसीसीआई ने बैठक को स्थागित कर दिया था।

कोहली उपलब्ध, पंत को उम्मीद : पहले खबरें थीं कि कप्तान विराट कोहली सीमित ओवरों में आराम कर सकते हैं लेकिन कोहली ने साफ कर दिया है कि वह चयन के लिए उपलब्ध होंगे। वहीं पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी क खुद ही दौरे से हटने से तय है कि ऋषभ पंत विंडीज जाएंगे। दूसरे विकेटकीपर पर दो-तीन नामों पर चर्चा हो सकती है। इनमें संजू सैमसन और ईशान किशन का नाम प्रमुख है।

बेंच स्ट्रेंथ परखने का मौका : कई नए चेहरों का आना तय माना जा रहा है। खासकर गेंदबाजी में जसप्रीत बुमराह, मोहम्मद शमी और भुवनेश्वर कुमार को आराम दिया जा सकता है। तीनों अनुभवी गेंदबाजों की अनुपस्थिति चयन समिति को गेंदबाजी में बेंच स्ट्रेंथ को परखने और संभावित विकल्प तलाशने का मौका देगी। इस सूची में नवदीप सैनी प्रमुख हैं। खलील अहमद, आवेश खान, दीपक चाहर को भी विंडीज का टिकट मिलने की संभावना है। बल्लेबाजी में मयंक अग्रवाल के आने की उम्मीद है। देखना होगा कि कोहली के उपलब्ध होने की पुष्टि के बाद क्या चयनकर्ता विश्व कप में बेहतरीन प्रदर्शन करने वाले रोहित शर्मा को आराम देते हैं या नहीं। न्यूजीलैंड दौरे गए पर गए शुभमन गिल का भी स्थान टीम में पक्का सा लग रहा है।

जाधव-कार्तिक पर संदेह : केदार जाधव और दिनेश कार्तिक का टीम से बाहर जाना तय माना जा रहा है। इनके साथ विजय शंकर का नाम भी शामिल हो सकता है क्योंकि उनकी चोट पर बोर्ड ने अब तक कोई अपडेट नहीं दिया है।

विंडीज दौरे पर नहीं जाएंगे धोनी : भारतीय टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने विंडीज दौरे के लिए खुद को अनुपलब्ध बताया है। सभी की निगाहें उनके चयन पर थीं। दौरे की टीम के चयन के लिए रविवार को मुंबई में होने वाली बैठक से पहले धोनी ने फिलहाल क्रिकेट से संन्यास लेने से भी मना कर दिया। धोनी ने बीसीसीआई को अपने फैसले से अवगत करा दिया। बीसीसीआई के एक शीर्ष अधिकारी ने इसकी पुष्टि की। धोनी ने बोर्ड से कहा है कि वह अपनी अर्धसैनिक रेजिमेंट की सेवा के लिए खेल से दो महीने का विश्राम लेंगे। 38 वर्षीय धोनी प्रादेशिक सेना की पैराशूट रेजिमेंट में मानद लेफ्टिनेंट कर्नल के पद पर हैं।

ये सवाल होंगे सामने

1. क्या वे धोनी को टी-20 विश्व कप तक खेलते हुए देख रहे हैं? अगर इसका जवाब हां में है, तो क्या वे उन्हें विकेटकीपर-बल्लेबाज के रूप में इस दौरान 15 से 18 टी-20 मैचों में मौका देने को तैयार हैं?

2. अगर यह जवाब भी हां में है, तो क्या कप्तान विराट कोहली उन्हें टी-20 में एक बल्लेबाज के रूप में देखते हैं जहां विकेटकीपिंग की प्राथमिक कौशल की आवश्यकता नहीं है?

3.धोनी की बड़े शॉट खेलने की लगातार घटती क्षमता के साथ क्या वह छठे या सातवें क्रम पर बल्लेबाजी के लिए आ सकते हैं, जहां उन्हें छह से आठ गेंद और कई बार इससे भी कम गेंद खेलने का मौका मिलेगा?

4. क्या आखिरी ओवरों में वह क्रीज पर आते ही जोफ्रा आर्चर, जेसन बेहरनडार्फ, मोहम्मद आमेर जैसे गेंदबाजों के खिलाफ बड़े शॉट खेल सकते हैं?

5. मौजूदा चयन समिति का कार्यकाल अक्टूबर में समाप्त होगा जब बीसीसीआई के चुनाव निर्धारित हैं। ऐसे में चयन समिति कप्तान और कोच के साथ मिलकर समन्वय बनाए रखना चाहेगी?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here