वर्ल्डकप फाइनल के नतीजे से परेशान हैं इंग्लैंड के कप्तान, यह है वजह..

जनता से रिश्ता वेबडेस्क :- इंग्लैंड के कप्तान इयोन मोर्गन ने माना है कि वह वर्ल्डकप 2019 के फाइनल मुकाबले के समाप्त होने के तरीके से परेशान हैं. इंग्लैंड और न्यूजीलैंड (NZ vs ENG) के बीच हुआ यह मुकाबला दो बार टाई हुआ था. पहले नियमित मैच में और फिर सुपर ओवर में. इसके बाद इंग्लैंड टीम को बाउंड्री काउंटिंग के आधार पर विजेता घोषित कर दिया गया था. मॉर्गन ने ‘द टाइम्स’ से बात करते हुए कहा, ‘मुझे लगता है कि जब दोनों पक्षों के बीच बहुत कम फासला हो तो यह उचित है.’ अब तक के हुए सभी मैचों में इस मैच को सबसे रोमांचक और अद्भुत फाइनल कहा जा रहा है. हालांकि इसके नतीजे को घोषित करने का तरीका विवादों से घिरा हुआ है. वहीं न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियमसन की हार को स्वीकार करने के तरीके के लिए तारीफ की जा रही है.

इंग्लैंड के कप्तान मोर्गन को आमतौर पर उनके स्पष्ट नेतृत्व वाले दृष्टिकोण के लिए जाना जाता है. इसके साथ ही उन्हें क्रिकेट के प्रति इंग्लैंड के रवैये में एक बड़े परिवर्तन के नेतृत्व करने का श्रेय भी दिया जाता है. हालांकि उन्होंने भी स्वीकार किया कि फाइनल में जो हुआ वह उसे समझने के लिए अभी तक संघर्ष कर रहे हैं. उन्होंने कहा, ‘मैं अपनी उंगुली को उस स्थान पर नहीं रख सकता जहां मैच जीता और हारा गया था.’ उन्होंने कहा, ‘कोई निश्चित समय नहीं है कि आप कहें, हां, हम पूरी तरह से इसके हकदार हैं.’

मोर्गन ने कहा कि वह न्‍यूजीलैंड के कप्‍तान विलियमसन से बात कर रहे हैं, जिनके साथ उन्होंने इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) में कई मौकों पर खेल के बारे में बात की है. उन्होंने कहा, ‘मैंने कई मौकों पर पिछले कुछ दिनों में केन से बात की और हममें से कोई भी तर्कसंगत स्पष्टीकरण के साथ बात नहीं कर पाया क्योंकि मैच में हम उन पर कई बार हावी हुए और फिर उन्होंने भी यही किया.’ हालांकि मोर्गन इस बात से सहमत थे कि यह मुकाबला सबसे महान था. उन्होंने कहा, ‘एक लंबा रास्ता तय करने के बाद मैं इस बारे में नहीं सोच सकता था. मुझे इस बारे में खुश होना चाहिए. क्या नहीं होना चाहिए?’