लोन दिलाने का झांसा देकर साढ़े 17 हजार की ठगी

जनता से रिश्ता वेबडेस्क:- 
बिलासपुर। रतनपुर थानांतर्गत ग्राम भेड़ीमुड़ा में सेलून दुकान संचालक को लोन दिलाने का झांसा देकर फर्जी फायनेंस कंपनी के संचालक ने साढ़े 17 हजार की ठगी कर ली। शिकायत पर पुलिस ने आरोपी के खिलाफ अपराध दर्ज कर लिया है। रतनपुर पुलिस के अनुसार ग्राम भेड़ीमुड़ा निवासी रामकुमार श्रीवास पिता बलदाउ प्रसाद सेलून दुकान संचालक है। 22 जनवरी को उन्होंने एक समाचार पत्र में महिन्द्रा एण्ड महिन्द्रा फायनेंस कंपनी का विज्ञापन देखा था, जिसमें दस्तावेज जमा करने पर एक लाख रुपए कम ब्याज पर मिलने की सुविधा की जानकारी दी गई थी। उन्होंने विज्ञापन में दिए गए मोबाइल नंबर 9992054111 पर कॉल किया। कंपनी के अशोक कुमार ने उन्हें दस्तावेज जमा करने पर लोन स्वीकृत करने और पांच किश्तो में लोन चुकाने की जानकारी दी। अशोक नाम के युवक ने उनसे लोन से स्वीकृति के लिए आधार कार्ड, वोटर आईडी कार्ड, बैंक पासबुक की फोटो कॉपी वाट्सएप नंबर पर भेजने कहा। 24 जनवरी को उन्होंने दस्तावेज की फोटो खींचकर वाट्सएप पर भेज दिया था। इसके बाद उसने मोबाइल पर कॉल कर उन्हें बैंक एकाउंट नंबर देकर लोन प्रोसेस फीस के नाम पर 3 अलग-अलग किश्तों में 17500 रुपए जमा करा लिये।
रकम जमा करने के बाद अशोक नाम के व्यक्ति ने उन्हें फिर से साढ़े 7 हजार रुपए जमा करने के लिए कहा। रकम जमा करने से पहले उन्हें ठगी का शिकार होने का अहसास हुआ। उन्होंने मोबाइल पर कॉल कर अशोक नाम के व्यक्ति को लोन मिलने पर फीस जमा करने की बात कही। इसके बाद अशोक नाम के व्यक्ति ने बीमा के नाम पर उससे रकम जमा करने के लिए लगातार संपर्क करने लगा। शनिवार को राम कुमार ने शिकायत थाने में दर्ज कराई। पुलिस ने आरोपी के खिलाफ धारा 420 के तहत अपराध दर्ज कर लिया है।