रायपुर: एक फोन पर घर पहुंचा पौधा…वन विभाग की पहल खूब भा रही लोगों को

जनता से रिश्ता वेबडेस्क:- वैशाली नगर के निवासी आशीष ने 9407610884 पर आज सुबह फोन कर गुलमोहर का पौधा चाहा। उन्हें आश्चर्य हुआ कि आधे घंटे के भीतर वन विभाग की टीम आई, उन्हें गुलमोहर का पौधा दे दिया। आशीष काफी खुश हुए। उन्होंने बताया कि हममें से हर कोई प्रकृति के लिए चिंतित है। अपने पास हरियाली देखना चाहते हैं लेकिन पौधे लाने नर्सरी जाने का समय नहीं है। यह भी आशंका मन में होती है कि वहां हमारे द्वारा चाहा गया पौधा मिल पाएगा या नहीं। जब यह जानकारी मिली कि वन विभाग द्वारा घर पहुंच पौधे देने की सेवा दी जा रही है तो मैंने नंबर लगाया। मुझे त्वरित सेवा मिली, विभाग द्वारा किये जा रहे इस कार्य के निकट भविष्य में अच्छे नतीजे आएंगे। 

आदर्श नगर दुर्ग के  हरिराम यादव ने बताया कि मैंने भी पौधा मंगवाया। मुझे यह अच्छा लगा कि वन विभाग मेडिसीनल प्लांट भी उपलब्ध करा रहा है। एलोवीरा, आंवला जैसे मेडिसीनल प्लांट के बहुत सारे उपयोग है। अब इधर आयुर्वेद की महत्ता जब एक बार पुनः स्थापित हुई है तब औषधिय पौधे  लगाने का महत्व बढ़ा है। यह अच्छी बात है कि इतने सारे प्लांट की प्रजाति वन विभाग उपलब्ध करा रहा है। सुभाष नगर निवासी श्री साहू ने बताया कि अपने घर में प्लांटेशन बहुत जरूरी है। शुद्ध हवा लेने इतनी दूर गार्डन जाने की जहमत क्यों उठायें। अपने घर में ही शुद्ध हवा का लाभ पाएं, इसलिए प्लांटेशन बहुत जरूरी है। श्री साहू ने बताया कि उनके गांव में सभी घरों में ढेर सारे पेड़ हैं। इनसे गर्मी में भी तापमान घर में काफी कम रहता है। घर में बिजली बिल काफी ज्यादा इसलिए भी आता है कि पेड़ों की छांव नहीं है। गर्मी खूब लगती है और एसी में बिजली का खर्च भी खूब होता है। उन्होंने बताया कि धीरे-धीरे कांक्रीट फैलते गए और शहर की हरियाली छीनती गई। अगर हम अब भी नहीं चेते तो अगली पीढ़ी के लिए कोई अच्छी विरासत नहीं छोड़ जाएंगे। सुभाष नगर की निवासी श्रीमती ममता मिश्रा ने बताया कि मुझे मौलश्री का पेड़ बहुत अच्छा लगता है। घर में जगह भी है लेकिन आलस्य की वजह से अब तक नर्सरी नहीं जा सकी थी। जब अखबार में पौधों की घर पहुंच सेवा के बारे में सुना तो फोन किया और मेरे घर मौलश्री घर पहुंच गया। वनमंडलाधिकारी श्री धम्मशील गणवीर ने बताया कि नागरिकगण 94076-10884, 77468-24555 एवं 94060-91336 पर काल कर पौधे प्राप्त कर सकते हैं। जल्द से जल्द उन्हें पौधा उपलब्ध करा दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के निर्देश पर पौधरोपण को जनांदोलन का रूप देना  है और इस दिशा में फोन से पौधा उपलब्ध कराने की योजना का अच्छा परिणाम सामने आ रहा है।