मेहदी हसन की पुण्यतिथि पर ‘रंजिश ही सही’ से लेकर ‘अब के हम बिछड़े तो’, यादगार गजलें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here