मायके से 5 लाख नहीं लाई तो दूधमुंही बेटी के साथ पत्नी को घर से बाहर निकाला

जनता से रिश्ता वेबडेस्क
IPL में पैसे लगाता था पति
भिलाई। मायके से पांच लाख नकदी नहीं लाने पर पति ने दूधमुंही बच्ची के साथ पत्नी को मारपीट कर घर से निकाल दिया। परेशान पीडि़ता बच्ची को लेकर मायके भिलाई लौट आई। यहां आकर उन्होंने महिला थाना सेक्टर-6 में शिकायत की। महिला पुलिस ने पहले दोनों पक्षों की काउंसलिंग की। जब बात नहीं बनी तब जीरो में कायमी कर डायरी को राजनांदगांव बसंतपुर थाना भेज दिया। बसंतपुर थाना प्रभारी अलेक्जेंडर कीरो ने आरोपी पति सुमित कुमार सोनी के खिलाफ दहेज प्रताडऩा के तहत अपराध पंजीबद्ध कर मामले को विवेचना में लिया है।
पत्नी से करता था मारपीट-भिलाई नगर महिला थाना टीआई सी तिर्की ने बताया 7 फरवरी 2015 को पीडि़ता की राजनांदगांव नंदई निवासी सुमित कुमार सोनी (31) से शादी हुई। वह कोरबा बाल्को में प्रोसेस टेक्रीशियन है। उनकी डेढ़ साल की एक बच्ची है। टीआई तिर्की ने बताया कि पहले तो आरोपी अपनी पत्नी से छोटी-छोटी बात को लेकर मारपीट करने लगा। यह बोलकर घर से निकाल दिया कि मायके से पांच लाख रुपए लेकर आना तब दहलीज पर कदम रखना।
बेटी हुई तो खर्च मायके वाले वहन करेंगे-पीडि़ता ने पुलिस को बताया कि उन्होंने पति को गर्भवती होने की जानकारी दी। तब से आरोपी कहने लगा कि लड़की होने पर उसका पूरा खर्च मायके वालों को देना होगा। उसे बेटा ही चाहिए। प्रेगनेंसी रूटिन चेकिंग के दौरान पति को यह लगने लगा कि बच्ची होने वाली है। तब उसे खराब करने में जुट गया और तांत्रिकों का भी सहारा लिया। एएसपी आइयूसीएडब्ल्यू प्रज्ञा मेश्राम ने बताया कि टीआई सी तिर्की ने बताया कि आरोपी ने बेटी का जन्म दिन मनाने के बहाने खर्च के लिए मायके से पैसा लाने को लेकर दबाव बनाया। पीडि़ता ने बताया कि उसका पति आइपीएल मैच में पैसा लगाता था। इस वजह से उस पर काफी कर्ज था। बात-बात पर पैसे के लिए प्रताडि़ता करना था। दोनों पक्षों को काउंसलिंग के लिए बुलाया गया था। जब समझौता नहीं हुआ तब एफआइआर के लिए संबंधित थाना भेज दिया गया।