ममता बनर्जी ने एयर स्ट्राइक पर उठाए सवाल, ‘देश जानना चाहता है कि बालाकोट में क्या हुआ’

जनता से रिश्ता वेबडेस्क :- कोलकाता: पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने गुरुवार को कहा कि जवानों का जीवन चुनावी राजनीति से ज्यादा कीमती है, लेकिन देश को यह जानने का अधिकार है कि पाकिस्तान के बालाकोट में वायुसेना के हवाई हमले के बाद वास्तव में वहां क्या हुआ था. विदेशी मीडिया की उन रिपोर्टों का हवाला देते हुए जिनमें कहा गया था कि बालाकोट में आतंकी शिविरों पर भारतीय वायु सेना के हमलों से कोई नुकसान नहीं हुआ है.ममता ने कहा, “बलों को तथ्यों के साथ सामने आने का मौका दिया जाना चाहिए.” ममता ने राज्य सचिवालय में संवाददाताओं से कहा, “हवाई हमलों के बाद, हमें बताया गया कि 300 मौतें हुईं, 350 मौतें हुईं. लेकिन मैंने न्यूयॉर्क टाइम्स और वॉशिंगटन पोस्ट में ऐसी खबरें पढ़ीं जिनमें कहा गया कि कोई इंसान नहीं मारा गया. एक अन्य विदेशी मीडिया रिपोर्ट में केवल एक व्यक्ति के घायल होने की बात कही गई थी.” उन्होंने कहा, “हमें यह जानने का अधिकार है, इस देश के लोग यह जानना चाहते हैं कि कितने मारे गए (बालाकोट में). वास्तव में बम कहां गिराया गया था? क्या यह लक्ष्य पर गिरा था?” इससे पहले सरकारी अधिकारियों ने मंगलवार को कहा था वायुसेना ने पाकिस्तान के खैबर पख्तूनख्वा प्रांत के बालाकोट में जैश-ए-मोहम्मद के बड़े प्रशिक्षण शिविरों पर बम गिराकर उन्हें तबाह कर दिया, जिसमें 350 आंतकवादी, ‍‍उनके प्रशिक्षक और बड़े कमांडर मारे गए.