भारतीय हॉकी टीम के खिलाड़ी की गलती पर अधिकारी ने लगा दी जमकर फटकार

जनता से रिश्ता वेबडेस्क:- ओडिशा में चल रहे हॉकी विश्व कप में क्वार्टर फाइनल में भारतीय हॉकी टीम का मुकाबला नीदरलैंड से होगा. इस मैच की तैयारी में जुटे भारतीय हाकी टीम के खिलाड़ियों को उस समय शर्मिंदगी उठानी पड़ी जब हाकी इंडिया की एक आला अधिकारी कलिंगा स्टेडियम के वीआईपी लाउंज में पूर्व खिलाड़ियों और अतिथियों के सामने कप्तान मनप्रीत सिंह समेत कई खिलाड़ियों पर बुरी तरह बरस पड़ी.दरअसल भारतीय कोच हरेंद्र सिंह, कप्तान मनप्रीत और कुछ खिलाड़ी मंगलवार को कनाडा और नीदरलैंड के बीच क्रासओवर मैच देखने आए थे चूंकि भारत को क्वार्टर फाइनल में नीदरलैंड से खेलना है. इस बीच मनप्रीत और कुछ खिलाड़ी वीआईपी लाउंज में चले गए जहां खिलाड़ियों का जाना वर्जित है. उन्होंने वहां तस्वीरें खिंचवाई और आटोग्राफ भी दिए. वहीं इस अधिकारी ने उन्हें फटकार लगाते हुए कहा, ‘‘गेट आउट आफ हियर. वाट आर यू डूइंग हियर.’’

सोशल मीडिया पर आ गया मामला
वहां भारत और दूसरे देशों के कई पूर्व खिलाड़ी मौजूद थे जिनमें से कुछ ने पूरी घटना का ब्यौरा सोशल मीडिया पर डाला और खिलाड़ियों के साथ इस तरह की भाषा का इस्तेमाल करने के लिये अधिकारी को लताड़ा. इस बारे में पूछने पर कप्तान मनप्रीत सिंह ने घटना स्वीकार की लेकिन कहा कि इसे तिल का ताड़ बनाकर पेश किया गया.

गलती हमारी थी, हमें वहां नहीं जाना चाहिए था
हरमनप्रीत ने कहा, ‘‘गलती हमारी थी और हमें वहां नहीं जाना चाहिए था. वहां खिलाड़ियों का जाना मना था लेकिन यह छोटा सा मसला था. इसे तिल का ताड़ बनाकर पेश किया गया. रात में बात हुई थी और यह कोई मसला ही नहीं था. हमारे उस अधिकारी के साथ काफी अच्छे संबंध है.’’ उन्होंने इस बात से भी इनकार किया कि हाकी इंडिया की ओर से उन पर घटना का खंडन करने का कोई दबाव है. उन्होंने कहा, ‘‘मुझ पर कोई दबाव नहीं है और मैं मीडिया से अपील करना चाहता हूं कि तथ्यों को ही छापे.

नीदरलैंड के खिलाफ कड़ी चुनौती होगी भारत के सामने
इस मैच में नीदरलैंड ने कनाडा को 5-0 से मात दी थी, जिसके बाद क्वार्टरफाइनल में भारत का मुकाबला नीदरलैंड से होना तय हुआ था. भारतीय टीम ने पिछले कुछ अर्से में नीदरलैंड के खिलाफ अपना रिकार्ड सुधारा है और पिछले नौ मैचों में दोनों ने चार चार जीते और एक ड्रा रहा. वैसे विश्व कप में दोनों टीमों का सामना छह बार हुआ और सभी छह मैच नीदरलैंड ने जीते. टूर्नामेंट में 1971 से अब तक भारत सिर्फ एक बार 1975 में खिताब जीत सका है और उसके बाद से उसका सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 1994 में रहा जब टीम पांचवें स्थान पर रही थी. वहीं टूर्नामेंट की सबसे सफल टीमों में से एक पिछली उपविजेता नीदरलैंड ने तीन बार (1973, 1990 , 1998) में खिताब जीता है. गुरुवार को ही एक अन्य क्वार्टर फाइनल में जर्मनी का सामना बेल्जियम से होगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here