ब्रिटेन की प्रधानमंत्री थेरेसा मे ने खुलासा किया ब्रेग्जिट पर ट्रंप ने दी थी ये ‘अजीब’ सलाह

जनता से रिश्ता वेबडेस्क। लंदन। ब्रिटेन की प्रधानमंत्री थेरेसा मे ने खुलासा किया कि अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने उन्हें ब्रेग्जिट रणनीति के तहत यूरोपियन यूनियन पर मुकदमा चलाने और बातचीत नहीं करने की सलाह दी थी। अमेरिकी राष्ट्रपति ने भी शुक्रवार को ब्रिटिश प्रधानममंत्री के साथ आयोजित संयुक्त प्रेस वार्ता में इस बात की पुष्टि की थी। उन्होंने कहा कि मे को उनकी सलाह कुछ ज्यादा ही ‘क्रूर’ लगी। बीबीसी को दिए इंटरव्यू में थेरेसा मे ने कहा कि उन्होंने (ट्रंप ने) मुझे कहा थाकि मैं यूरोपियन यूनियन पर मुकदमा चलाऊं और उनके साथ किसी तरह के समझौते में नहीं जाऊं।मे ने यह भी कहा कि ट्रंप ने उन्हें यह सलाह भी दी कि क्योंकि अब वे (थेरेसा मे) यूरोपियन यूनियन के साथ बातचीत में हैं तो वे अब इससे पीछे न हटें। इस पर मे ने कहा कि मैं बातचीत के द्वारा ब्रिटेन के हित में बेहतर डील करूंगी। इस हफ्ते ट्रंप पहली बार ब्रिटेन की आधिकारिक यात्रा पर पहुंचे थे और इस दौरान उन्होंने मे के नेतृत्व पर कई विवादित बयान दिए, खासकर ब्रेग्जिट को लेकर।

ब्रिटिश प्रधानमंत्री से बातचीत से पहले ‘द सन’ को दिए इंटरव्यू में ट्रंप ने पहले कहा था कि कहा था कि ब्रिटिश प्रधानमंत्री थेरेसा मे की ब्रेग्जिट रणनीति दोनों देशों के बीच व्यापार समझौते की गुंजाइश को ‘खत्म’ कर देगी। इंटरव्यू में ट्रंप ने दावा किया था कि थेरेसा ने ब्रेग्जिट (यूरोपीय संघ से ब्रिटेन का अलग होना) पर उनकी सलाह की अनदेखी की।

ट्रंप के ऐसे बयानों ने ब्रिटेन के राजनीतिक गलियारों में हलचल मचा दी। यहां तक कि थेरेसा मे के विरोधी भी चौंक गए। हालांकि विवाद बढ़ते देख अमेरिकी राष्ट्रपति ने अपना रुख नरम किया और संयुक्त प्रेस वार्ता के दौरान मे की तारीफों के पुल बांधे। उन्होंने कहा कि मे एक शानदार नेता हैं और प्रधानमंत्री के रूप में अपना दायित्व बहुत ही अच्छे से निभा रही हैं।