बहादुर चेतन को भारत सरकार ने दिया सर्वोत्त्तम जीवन रक्षा मेडल…मरणोपरांत माता पिता ने नम आंखों से ग्रहण किया सम्मान

 जनता से रिश्ता वेबडेस्क:- छोटी सी उम्र में मास्टर चेतन निषाद ने वो कर दिखाया जिसके बारे में सोच कर ही बड़े बड़ों की हालत ख़राब हो जाती है।अगस्त 2017 में भाटापारा के कोदवा के 16 वर्षीय चेतन निषाद ने शिवनाथ नदी पर बने कोनी एनीकट में डूबने से 10 साल के टेकराम की जान तो बचा ली लेकिन शिवनाथ के भंवर में अपनी ज़िंदगी हार गए । भारत सरकार ने चेतन के इस अदम्य साहस के लिए उन्हें सर्वोत्तम जीवन रक्षा पदक से सम्मानित किया है।गणतंत्र दिवस पर इस पुरस्कार की घोषणा की गई थी ।जिला कार्यालय में माता पिता ने ग्रहण किया सम्मानकलेक्टर श्री कार्तिकेया गोयल ने जिला कार्यालय में आज जब ये सम्मान चेतन के माता पिता श्री शिव कुमार निषाद और धन बाई को प्रदान किया तो बेटे की याद में उनकी आंखें छलक उठीं। बड़ी मुश्किल से अपने आँसू रोक कर उन्होंने ये सम्मान ग्रहण किया।श्री गोयल ने उन्हें ढांढस बंधाते हुए कहा कि चेतन जैसे वीर बच्चों के लिए रोना नहीं चाहिए इतनी कम उम्र में जिस तरह का जज़्बा चेतन में था वो बहुत कम देखने को मिलता है पूरे जिले को उन पर गर्व है।उन्होंने कहा कि आज भले ही चेतन हमारे बीच नहीं है लेकिन उनका नाम हमेशा के लिए अमर हो गया है। सम्मान के रूप में चेतन के माता पिता को प्रशस्ति पत्र, मेडल और 2 लाख रुपए का चेक प्रदान किया गया।एस पी नीतू कमल ने चेतन के माता पिता से कहा कि आपके बेटे ने बहुत बड़ा काम किया है। इतनी छोटी उम्र  में ऐसी सोच कम लोगों की होती है। इस दौरान सभाकक्ष में मौजूद सभी अधिकारियों की आँखें नम हो गई।

गोयल ने चेतन के माता पिता और भाई के साथ अलग से मुलाकात कर उनका हाल चाल जाना। उन्होंने कहा कि इस वीर बच्चे के के परिवार के लिए कुछ भी कर पाएं तो गर्व की बात होगी। उन्होंने चेतन की दो छोटी बहनों की।पढ़ाई लिखाई और भाई को आजीविका स्थापित करने में मदद करने का आश्वासन दिया। चेतन के भाई बसंत कुमार निषाद ने बताया कि चेतन स्कॉउट कैडेट था और हमेशा लोगों की मदद करता था।

किनको मिलता है सम्मान

उल्लेखनीय है कि जीवन रक्षा पदक श्रृंखला के पुरस्कार मानव जीवन की रक्षा में उल्लेखनीय योगदान करने वाले वीरों को दिए जाते हैं। यह पदक जल में डूबते हुए, अग्नि, खानों में रक्षात्मक संक्रियाओं से जीवन की रक्षा करने में, रक्षा करने वाले द्वारा प्रदर्शित कार्यवाही में अपने जीवन के लिए महान संकट की परिस्थितियों में विशिष्ट साहस प्रदर्शित करने वाले वीरों को प्रदान किया जाता है।यह पुरस्कार सर्वोत्तम जीवन रक्षा पदक, उत्तम जीवन रक्षा पदक और जीवन रक्षा पदक की श्रेणियों में दिए जाते हैं। पुरस्कार के तहत पदक, गृह मंत्री का दस्तखत किया हुआ प्रमाणपत्र और एकमुश्त नकद राशि दी जाती है। राज्य सरकारें अपने-अपने राज्य के विजेताओं को पुरस्कार प्रदान करती हैं।