बच्चो के संपूर्ण व्यक्तित्व विकास में सहायक होगा समर कैंप…प्रतिभागी छात्रो को कलेक्टर ने किया पुरस्कृत

जनता से रिश्ता वेबडेस्क:-   जिला प्रशासन कोण्डागांव द्वारा 1 मई से 21 मई तक आयोजित समर कैंप का रंगारंग समापन आज सम्पन्न हुआ। उल्लेखनीय है कि विभिन्न विभागो की सक्रिय भागीदारी एवं सहभागिता से बच्चो के शारीरिक, मानसिक,नैतिक, बौद्धिक, कला और कौशल विकास के साथ ही सर्वांगीण विकास के उद्देश्य से जिला स्तरीय समर कैंप का आयोजन किया गया था। समर कैंप का मुख्य आकर्षण बच्चो की रुचि अनुरुप नाना प्रकार की गतिविधियों का समायोजन था। इसके अंतर्गत प्रत्येक विद्यार्थियों को अपनी पसंद की गतिविधियों का चयन कर प्रशिक्षण प्राप्त करने का अवसर दिया गया। इसके तहत खेलकूद में कबड्डी, वॉलीवाल, शतरंज, तैराकी, जुडो, तीरंदाजी, फुटबाल, कैरम, बैडमिंटन और टेबल-टेनिस तथा अन्य कलात्मक गतिविधियों में आर्ट, पेंटिंग, ड्राईंग, क्राफ्ट, नृत्य, इत्यादि कलाओ को भी सम्मिलित किया गया था। इनके अलाव बच्चो को गुणवत्तापूर्ण प्रशिक्षण हेतु वरिष्ठ कोच भी उपलब्ध कराये गए थे। जिससे प्रतिभागियों में कला के प्रति रुचि और भी बढी। समर कैंप के आयोजन स्थल के रुप में जिला प्रशासन द्वारा रजबंधा तालाब के किनारे स्थित पार्क का चयन किया गया था। जहां प्रतिदिन योगाभ्यास के पश्चात बच्चे विभिन्न गतिविधियों में हिस्सा लेते थे तथा शारीरिक व्यायाम खत्म करने के उपरांत बच्चो को पौष्टिक स्वल्पाहार भी दिया जाता था।

दिनांक 21 मई को समापन अवसर पर उपस्थित जिला कलेक्टर नीलकंठ टीकाम ने अपने संबोधन में कहा कि समर कैंप के अभियान का संपूर्ण उद्देश्य केवल यह नहीं है कि ग्रीष्मकालीन अवकाश में बच्चे अपने अवकाश का सही उपयोग करना सीखे बल्कि इस अवधि में उनका संपूर्ण व्यक्तित्व विकास को एक नई दिशा मिले। इस कैंप के द्वारा उन्हें बहुत सी चीजे सीखने का अवसर दिया गया जिसका उपयोग वे कैंप बंद होने के बाद भी जारी रख सकेंगे। इस प्रकार बच्चों के भविष्य पर एक सकारात्मक छाप छोड़ना ही जिला प्रशासन का मुख्य उद्देश्य था। उन्हें आशा व्यक्त किया कि समर कैंप के नियमो को अपने दिनचर्या में लाने से सभी प्रतिभागी अपने उज्जवल भविष्य का निर्माण कर सकते है। इस मौके पर जिला पंचायत सीईओ नुपूर राशि पन्ना ने भी बच्चो को शुभकामना देते हुए कहा कि जिला प्रशासन के अथक प्रयासो से एक शानदार आयोजन सम्पन्न हुआ और आज इस समर कैंप की चर्चा पूरे राज्य में हो रही है। इस दौरान विभिन्न गतिविधियों में शामिल विजेता प्रतिभागी बच्चो को जिला कलेक्टर द्वारा प्रमाण पत्र,स्मृति चिन्ह एवं अन्य पुरस्कार भी दिए गए।

 

इस दौरान डिप्टी कलेक्टर पवन कुमार प्रेमी, सहायक आयुक्त आदिवासी विकास जी.एस.सोरी, वरिष्ठ खेल अधिकारी अशोक उसेण्डी, सीएमओ सूरज सिंह सिदार, पीटीआई ऋषि देव सिंग, इरशाद अंसारी, उग्रेश मरकाम सहित खेल एवं युवा कल्याण विभाग के कर्मचारी एवं बड़ी संख्या बच्चे उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here