प्राइवेट सेक्‍टर के ICICI समेत 3 बैंकों ने घटाई डिपॉजिट ब्‍याज दर

जनता से रिश्ता वेबडेस्क:- प्राइवेट सेक्‍टर के ICICI, बंधन और एक्सिस बैंक ने फिक्स्ड डिपॉजिट पर ब्याज दरों में 0.25 फीसदी तक कटौती कर दी है. इस कटौती का ग्राहकों पर सीधा असर होगा. डिपॉजिट दरों पर 0.25 फीसदी तक कटौती का मतलब है कि अगर कोई ग्राहक अब इन तीनों बैंक में किसी भी समय के लिए पैसा जमा करता है तो उसे जमा पर 0.25 फीसदी तक का कम मुनाफा मिलेगा. हालांकि जिन्होंने पहले से तय ब्याज पर एफडी कराई है, उसकी स्कीम में बदलाव नहीं होगा.

किस बैंक ने कितनी की कटौती

आईसीआईसीआई बैंक ने जमा पर ब्याज दर में 0.10 से 0.25 फीसदी की कटौती की है. इसी तरह एक्सिस बैंक ने भी जमा ब्याज दर में 0.15 फीसदी की कटौती की है. जबकि बंधन बैंक ने छोटे कर्ज पर ब्याज दर 0.7 फीसदी घटाकर कम कर 17.95 फीसदी कर दी है. संशोधित दरें लागू हो चुकी हैं. खबर यह भी है कि निजी क्षेत्र के एचडीएफसी बैंक ने भी जमा दरों की समीक्षा कर रहा है.

क्‍या कर्ज पर कम होगी ब्‍याज दर

आमतौर पर जमा ब्याज दर में कटौती को ग्राहकों को दिए जाने वाले लोन के ब्याज में कटौती के कदम के रूप में देखा जाता है. यानी माना जा रहा है कि इस कदम से इन बैंकों से कर्ज लेना सस्ता हो जाएगा. बता दें कि केंद्रीय बैंक ने नीतिगत दर में कटौती के बाद बैंकों से उसका लाभ ग्राहकों को देने को कहा था, जिससे धीमी पड़ती अर्थव्यवस्था में तेजी लाई जा सके.बीते दिनों रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने मौद्रिक समीक्षा बैठक में 0.25 फीसदी की कटौती की थी. इसी के साथ अब नई रेपो रेट 5.75% हो गई है. आरबीआई की पिछली दो बैठकों में भी एमपीसी रेपो रेट में क्रमश: 0.25  फीसदी की कटौती कर चुकी है. यानी जून में लगातार तीसरी बार केंद्रीय बैंक ने रेपो रेट घटाई हैवहीं रिजर्व बैंक के इतिहास में पहली बार है जब आरबीआई गवर्नर की नियुक्‍ति के बाद लगातार तीसरी बार रेपो रेट में कमी आई है. बता दें कि बीते दिसंबर महीने में उर्जित पटेल के इस्‍तीफे के बाद शक्तिकांत दास बतौर गवर्नर नियुक्‍त हुए थे.