पांड्या को लेकर विराट कोहली को नहीं है टेंशन, रविंद्र जडेजा को बताया रिप्लेसमेंट

जनता से रिश्ता वेबडेस्क : – भारतीय क्रिकेट टीम (India Nationa Cricket Team) के कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) ने ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या (Hardik Pandya) के टीवी शो ‘कॉफी विद करण’ (Coffee With Karan) पर महिलओं को लेकर की गई अनुचित टिप्पणी के मामले में बैन लगने की संभावनाओं के बीच शुक्रवार को कहा कि वो इसे लेकर ज्यादा चिंतित नहीं है क्योंकि टीम के पास रवींद्र जडेजा (Ravindra Jadeja) के रूप में विकल्प मौजूद है।

ऑस्ट्रेलिया में पहली बार टेस्ट सीरीज में जीत से उत्साहित भारतीय टीम पांड्या और लोकेश राहुल के मैदान के बाहर की गतिविधियों के कारण सुर्खियों में है। दोनों ने एक टीवी शो में महिलाओं पर विवादित टिप्पणी की जिससे उन पर दो मैचों के निलंबन का खतरा मंडरा रहा है। विराट ने शनिवार को खेले जाने वाले मैच से पहले कहा, ‘भारत में हम वेस्टइंडीज के खिलाफ एक उंगली के स्पिनर और एक कलाई के स्पिनर के साथ खेले थे। हमारे लिए ये अच्छा है कि जडेजा की तरह का खिलाड़ी मौजूद है जो ऐसी स्थिति (पांड्या पर प्रतिबंध लगने से) में हरफनमौला की भूमिका निभा सकता है।’उन्होंने कहा, ‘हम एक टीम के तौर पर ज्यादा चिंतित नहीं है क्योंकि आपको हमेशा टीम में संतुलन बनाने की स्थिति का सामना करना पड़ेगा। हम ऐसे खिलाड़ियों को टीम में रखते हैं जो जरूरत पड़ने पर बल्ले और गेंद से योगदान देने के मामले में दूसरे की जगह ले सके।’ विराट ने कहा कि वो टीम के मौजूदा कॉम्बिनेशन से खुश हैं और 30 मई से इंग्लैंड में शुरू होने वाले एकदिवसीय विश्व कप के लिए टीम में ज्यादा बदलाव की गुंजाइश नहीं है।

‘वर्ल्ड कप में लगभग यही टीम रहेगी’

भारतीय कप्तान ने कहा, ‘विश्व कप से पहले हमारे पास अब ज्यादा मैच नहीं बचे हैं इसलिए हम लगभग उसी टीम के साथ खेलना चाहते हैं जो कमोबेश विश्व कप में खेले। जसप्रीत बुमराह का मामला अलग है। उन्हें टेस्ट मैच के भार को देखते हुए आराम दिया गया है। उनके अलावा मुझे नहीं लगता कि हम टीम कॉम्बिनेशन के बारे में ज्यादा विचार करेंगे।’ विराट ने हालांकि कहा कि टीम में कुछ जगहों के लिए फॉर्म और फिटनेस देखने के बाद फैसला किया जाएगा।  उन्होंने कहा, ‘टीम में एक-दो ऐसे स्थान हैं जहां आपको बदलाव करना पड़ सकता है लेकिन इसके अलावा हम विश्व कप से पहले इसी कॉम्बिनेशन के साथ खेलना चाहते हैं।’

टीम में तेज गेंदबाजों को मिलेगा मौका पांड्या और राहुल तीन मैचों की सीरीज के शुरूआती मैचों के लिए शायद उपलब्ध नहीं रहेंगे जिस पर कोहली ने कहा कि इससे उन्हें तेज गेंदबाजों के साथ प्रयोग करने का मौका मिलेगा। उन्होंने कहा, ‘भुवनेश्वर कुमार की वापसी हुई है। वो टेस्ट सीरीज के दौरान कड़ी मेहनत कर रहे थे। खलील अहमद को जो मौके मिले हैं उसने उसमें अच्छा प्रदर्शन किया है। मोहम्मद शमी के पास नई गेंद से विकेट लेने की काबिलियत है। उनके पास खुद को टीम में स्थापित करने का मौका होगा।’ भारतीय कप्तान ने कहा कि राहुल और पांड्या के मामले से टीम का ध्यान भंग नहीं हुआ है। उन्होंने कहा, ‘हमें मैदान में जाकर प्रदर्शन करना है। इन बाहरी बातों से विश्व कप के लिए हमारी प्रेरणा और तैयारियों पर कोई असर नहीं पड़ेगा।’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here