परीक्षा हॉल में घबराहट के चलते वह कुछ लिख नहीं पाई छात्रा

जनता से रिश्ता वेबडेस्क
करीब डेढ़ घंटा बाद उडऩदस्ता की टीम ने पकड़ा, परीक्षा हॉल में बुक लेकर पहुंची थी छात्रा

जसेरि रिपोर्टर
भिलाई। माध्यमिक शिक्षा मंडल ने शनिवार को कक्षा 10 वीं में विज्ञान विषय की परीक्षा ली। जिले के 124 केंद्रों में पहला नकल प्रकरण भी इसी विषय में बना। परीक्षा में छात्रा विषय की पुस्तक लेकर पहुंच गई। उसे परीक्षा शुरू होने के करीब डेढ़ घंटा बाद उडऩदस्ता की टीम ने पकड़ा। खुद जिला शिक्षा अधिकारी प्रवास बघेल इस उडऩदस्ता दल का नेतृत्व कर रहे थे।
घबराहट के चलते वह
कुछ लिख नहीं पाई
जानकारी के मुताबिक छात्रा अपने साथ विज्ञान की पुस्तक तो ले आई, लेकिन घबराहट के चलते वह कुछ लिख नहीं पाई। कलाई पर भी विषय से सबंधित लिखा हुआ था। उडऩदस्ता टीम की महिला शिक्षिका ने जब छात्रा को गौर से देखा तो मामला समझ में आया। छात्रा को उठाकर तलाशी ली गई, जिसमें पुस्तक बरामद की गई है। छात्रा का नकल प्रकरण बनाने के बाद उसे दोबारा से नई उत्तरपुस्तिका दी गई।
परीक्षाओं की तैयारी पर भरोसा करें, नकल से दूर ही रहें
यहां गौर करने वाली बात यह है कि नकल साथ होने की वजह से छात्रा शुरुआत के डेढ़ घंटे में उत्तरपुस्तिका का पहला पन्ना भी नहीं भर पाई। नकल साथ रखने पर बने प्रकरण की वजह से उसका काफी समय और भी बर्बाद हुआ। इस तरह नई उत्तरपुस्तिका मिलने के बाद छात्रा के पास बमुश्किल एक घंटा ही शेष बचा। जिला शिक्षा शिक्षा विभाग ने विद्यार्थियों से अपील की है कि परीक्षाओं की तैयारी पर भरोसा करें, नकल से दूर ही रहें, क्योंकि परीक्षा में सफलता मेहनत दिलाती है, न की इस तरह के पैतरें।
443 रहे परीक्षा में अनुपस्थित
कक्षा 10 वीं विज्ञान प्रश्नपत्र के लिए कुल 21066 विद्यार्थी दर्ज थे, जिनमें से 20623 ही परीक्षा में शामिल हुए। परीक्षा में 443 विद्यार्थी गैरहाजिर रहे। परीक्षा में नकल रोकने जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय से दो और विकासखंड शिक्षा अधिकारियों का एक-एक उडऩदस्ता दल गठित किया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here