पत्नी ने पति पर लगाया दुष्कर्म कराने का आरोप..बोली- ड्रग देकर दूसरे पुरुष से करवाता था रेप

जनता से रिश्ता वेबडेस्क।  एक महिला ने कहा है कि उनके पति ने ही उन्हें ड्रग दे दिया और जब वह जगी तो कोई और पुरुष उनका रेप कर रहा था. महिला का कहना है कि पति के सामने ही उनके साथ रेप किया गया. और ऐसी घटनाएं बार-बार घटी. घरेलू हिंसा की शिकार महिलाओं की मदद के लिए काम करने वाली ऑस्ट्रेलिया की एक संस्था ब्रोकन टू ब्रिलिएंट ने एक किताब पब्लिश की है. शैटर्ड टू शाइनिंग नाम की किताब में ऐसी 10 महिलाओं की कहानी प्रकाशित की गई है जिन्हें रिश्ते में हिंसा का सामना करना पड़ा.

ब्रिस्बेन टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक, शैटर्ड टू शाइनिंग नाम की किताब में मैरी (बदला हुआ नाम) ने बताया है कि ऑफिस में एक शख्स से उनकी मुलाकात हुई. वह तुरंत उसकी ओर खींची चली गई क्योंकि वह अपने बच्चों को काफी प्यार करता था और उसके व्यक्तित्व में कुछ रहस्यमय जैसा भी था. ऑफिस के अन्य साथियों से छिपाकर दोनों रिलेशनशिप में रहने लगे. मैरी ने कहा- ”एक साल के बाद मैं सेक्स स्लेव बन गई थी. मेरे साथ हो रही यौन हिंसा को देखने में उसे (पति को) संतुष्टि मिलती थी.”

मैरी की जिंदगी बुरी तरह खराब हो गई थी. वह फंसी हुई महसूस कर रही थी क्योंकि वह उससे काफी अधिक प्यार करती थी. वह हमेशा पति को माफ करने के बहाने ढूंढा करती थी. अपनी दोहरी जिंदगी की वजह से मैरी ने अपने परिवार के लोगों और दोस्तों से भी खुद को अलग-थलग कर लिया. दुर्व्यवहार करने वाले पति से मैरी को एक बेटा भी हो गया.

मैरी करीब एक दशक तक दुर्व्यवहार का सामना करती रही. आखिर उसने हिम्मत से काम लिया और पति को छोड़ने का फैसला किया. मैरी ने अपनी बहन को सारी बातें बता दी. इस दौरान मैरी ने दो बार ऐसी स्थिति का सामना किया जब उनके पास कोई घर नहीं था. मजबूरी में उन्हें एब्यूजर के घर में रहना पड़ा. दो बार मैरी को डिप्रेशन की वजह से हॉस्पिटल में भी भर्ती होना पड़ा.

मैरी ने खुद की जिंदगी समाप्त करने की कोशिश भी की. बाद में पता चला कि वह बायपोलर डिसऑर्डर का सामना कर रही है. बता दें कि शैटर्ड टू शाइनिंग किताब में मैरी की तरह 10 महिलाओं की घरेलू हिंसा की कहानियों को शेयर किया गया है. मैरी का कहना है कि लोग मुझसे पूछते हैं कि क्यों तुम इतने लंबे समय तक उस रिलेशनशिप में रही? अब मैं उन्हें जवाब के रूप में किताब का अपना चैप्टर सुझा सकती हूं. हालांकि, उन्होंने कहा कि दूसरी महिलाओं की कहानियां पढ़ना उनके लिए काफी कठिन है.