नॉर्थ कोरिया के शासक किम जोंग पर अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने भरोसा जताया

जनता से रिश्ता वेबडेस्क:- अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने शनिवार को एक ट्वीट कर भरोसा जताया कि उत्तर कोरिया के शासक किम जोंग उन अपना वादा नहीं तोड़ेंगे. ट्रंप ने एक ट्वीट में लिखा, ‘उत्तर कोरिया ने कुछ छोटे हथियार चलाए हैं जिसने मेरे कुछ लोगों को परेशान किया है लेकिन मैं परेशान नहीं हूं. मुझे भरोसा है कि चेयरमैन किम ने जो वादे किए हैं, उन्हें वे पूरा करेंगे.’ अभी हाल में प्योंग्यांग की ओर से अपने मिसाइल कार्यक्रम को आगे बढ़ाने के बारे में दक्षिण कोरिया के आशंका जताए जाने पर ट्रंप ने यह टिप्पणी की है. ऐसी खबरें हैं कि उत्तर कोरिया ने इस महीने की शुरुआत में मिसाइल परीक्षण किया था जिसके बाद दक्षिण कोरिया से उसके संबंधों में तनाव आ गया है. अमेरिकी राष्ट्रपति ने भी इसी घटना का संज्ञान लिया है.

इससे पहले शनिवार को अमेरिकी राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार जॉन बोल्टन ने कहा कि इस महीने की शुरुआत में उत्तर कोरिया के मिसाइल प्रक्षेपण ने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के प्रस्तावों का उल्लंघन किया है. राष्ट्रपति ट्रंप ने शुरुआत में कहा कि 4 और 9 मई को हुए मिसाइलों के परीक्षण से वह ‘खुश नहीं’ हैं लेकिन फिर बाद में उन्होंने इसे गंभीरता से न लेकर इसे ज्यादा तवज्जो नहीं दी.ट्रंप ने अपने ट्वीट में कहा कि इस दुनिया में कोई भी चीज संभव है और मेरा मानना है कि किम जोंग उन उत्तर कोरिया की आर्थिक संभावनाओं को साकार कर रहे हैं. अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा कि वह यह भी जानते हैं कि मैं उनके साथ हूं और वह मुझसे किए अपने वादे को नहीं तोड़ना चाहेंगे. दोनों देशों में करार होगा.

उधर अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप जापान के साथ अमेरिका के संबंधों को मजबूत करने और उत्तर कोरिया से बढ़ते खतरों पर चर्चा करने के लिए अपनी चार दिन की यात्रा पर शनिवार को टोक्यो पहुंचे हैं. जापान और अमेरिका के अधिकारियों ने ट्रंप और जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे के बीच के संबंध को खास बताते हुए इसकी तारीफ की है. दोनों देशों के बीच राजनयिक संबंध मजबूत करने के लिए दोनों नेता बातचीत करेंगे. ट्रप सोमवार को जापान के नए राजा नारूहितो से मुलाकात करेंगे. नारूहितो इस महीने की शुरुआत में जापान की राजगद्दी पर बैठे हैं. वहीं, आबे हाल ही में अमेरिका से लौटे हैं और ट्रंप भी करीब महीने भर बाद ओसाका में आयोजित होने वाले जी 20 नेताओं के शिखर सम्मेलन के लिए दोबारा जापान आएंगे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here