नरवा, गरूवा, घुरवा, बारी योजना…जशपुर जिले में प्रथम चरण में 65 गौठानों का हो रहा निर्माण

जनता से रिश्ता वेबडेस्क:- छत्तीसगढ़ सरकार की नरवा, गरूवा, घुरवा, बारी योजना पर प्रदेश के जिलों में तेजी से कार्य किया जा रहा है। इस योजना के अतंर्गत जशपुर जिले में प्रथम चरण में 65 गौठानों का निर्माण किया जा रहा है। प्रत्येक ब्लॉक में इस योजना के तहत् एक-एक मॉडल गौठान का निर्माण लगभग पूर्णता की ओर है। इन 65 गौठानों का रकबा 317.64 एकड़ है। यहां 79 हजार से अधिक पशुधन के चारे एवं पानी का प्रबंध रहेगा। यहां आने वाले पशुधन के चारे के लिए इन 65 गौठानों से लगकर कुल 784 एकड़ भूमि चारागाह के रूप में विकसित की जा रही है।

योजनांतर्गत निर्मित गौठानों में पशुधन की सुरक्षा के मद्देनजर चारों ओर फेंसिंग अथवा सीटीपी के निर्माण के साथ ही गौठान में पशुओं के चारे और पेयजल की व्यवस्था के लिए कोटना और टंकी का निर्माण, पशुओ के लिए शेड एवं चबूतरे का निर्माण, बीमार पशुओं के इलाज का भी प्रबंध किया जा रहा है। गौठान विकास समिति यहां की पूरी व्यवस्था पर निगरानी रखेगी। पशुओं की देखभाल के लिए चरवाहे भी रखे गए हैं। गौठान विकास समिति के लिए गौठान परिसर में एक सामुदायिक शेड बनेगा। समिति यहां पशुओं के प्रबंधन के साथ-साथ आय मूलक गतिविधियां संचालित कर सकेगी। वर्मी कम्पोस्ट खाद तैयार करने के साथ ही गौठान के इलाके में फलदार पौधों का रोपण भी ग्रामीणों के लिए अतिरिक्त आए का जरिया होगा।

जिले के सभी ब्लॉक मुख्यालयों में एक-एक मॉडल गौठान का निर्माण किया जा रहा है, जो लगभग पूर्णता की ओर है। उन्होंने बताया कि जशपुर जिले के ग्राम पोरतेंगा, मनोरा ब्लॉक के रेमने, दुलदुला ब्लॉक के ग्राम दुलदुला, फरसाबहार के ग्राम बोखी, कुनकुरी ब्लॉक के जोरातराई, पत्थलगांव ब्लॉक के ग्राम सुरेशपुर, कांसाबेल ब्लॉक के ग्राम बगिया तथा बगीचा ब्लॉक के ग्राम जुरगुम में मॉडल गौठान का निर्माण अंतिम चरण में है। इन आठों मॉडल गौठानों का कुल रकबा 50.50 एकड़ है। यहां आने वाले पशुओं की संख्या 3600 से अधिक है। मॉडल गौठानों में पानी टंकी, कोटना, चबूतरा, मचान आदि का निर्माण करा लिया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here