ड्यूटी समय में 2 चिकित्सक और 6 कर्मचारी रहे अनुपस्थित, कारण बताओ नोटिस जारी

जनता से रिश्ता वेबडेस्क
कलेक्टर का शासकीय जिला चिकित्सालय का आकस्मिक निरीक्षण
बालोद। शासकीय जिला चिकित्सालय के आकस्मिक निरीक्षण में कलक्टर किरण कौशल शुक्रवार की सुबह 10.30 बजे पहुंची, जहां दो चिकित्सक और छह कर्मचारी अनुपस्थित मिले। कलक्टर ने अनुपस्थित चिकित्सक मेडिकल ऑफिसर डॉ. ओपी गौर और डॉ. केके सिंघा तथा स्वास्थ्य कर्मचारी जी सिन्हा, अंजलि साहू, लक्ष्मी ठाकुर, जीके जोशी, पी नायडू और नीलम को कारण बताओ नोटिस जारी करने के निर्देश दिए। कलक्टर कौशल ने उपस्थित चिकित्सकों से कहा कि वे मरीजों का संवेदनशीलता के साथ बेहतर उपचार करें। इस दौरान अस्पताल में ब्लड बैंक, ओपीडी सहित विभिन्न वार्डों का निरीक्षण कर जायजा लिया। मरीजों से भेंट की, उनका हालचाल जाना और अस्पताल से मिलने वाली दवाइयों के संबंध में जानकारी ली। भवन में अव्यवस्था देख हुईं नाराज-कलक्टर ने अस्पताल में अव्यवस्था देख नाराज हुईं। साफ-सफाई की स्थिति देख परिसर को पूरी तरह स्वच्छ रखने के निर्देश दिए। कलक्टर ने अस्पताल में उपलब्ध संसाधनो का उपयोग नहीं किए जाने पर असंतोष व्यक्त कीं। कहा कि युक्तियुक्तकरण कर अस्पताल में उपलब्ध संसाधनों का उपयोग सुनिश्चित करें। ब्लड बैंक में दो लैब टेक्निशियन रखने निर्णय-कलक्टर ने चिकित्सालय का निरीक्षण करने के बाद संयुक्त जिला कार्यालय के सभाकक्ष में जीवनदीप समिति की कार्यकारणी समिति की बैठक ली। बैठक में जिला चिकित्सालय के ब्लड बैंक में दो लैब टेक्निशियन रखने का निर्णय लिया गया। समिति द्वारा ब्लड बैंक में दो स्टॉफ नर्स की ड्यूटी लगाए जाने पर चर्चा की।
बैठक में समिति में उपलब्ध आय-व्यय तथा जिला अस्पताल में आवश्यक दवाइयों के क्रय, बिजली, पानी व सेनेट्री आदि पर चर्चा की गई। बैठक में सिविल सर्जन डॉ. एसपी केसरवानी, जिला कार्यक्रम प्रबंधक डॉ. रीनालक्ष्मी सहित अन्य चिकित्सक, समिति की कार्यकारणी समिति के सदस्य डॉ. प्रदीप जैन सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here