डेंगू दूर करने में कीवी हैं, फायदेमंद जानिए कैसे। जनता से रिश्ता

file photo

जनता से रिश्ता वेबडेस्क। पोषक तत्वों से भरपूर कीवी का फल हमारी सेहत के लिए कई तरह से फायदेमंद और लाभकारी माना जाता है। कीवी का इस्तेमाल कार्डियोवसक्युलर यानी दिल से जुड़ी बीमारियों के इलाज, ब्लड प्रेशर को नियंत्रित करने और आंखों में धुंधलेपन की समस्या से बचने के लिए किया जा सकता है। कीवी में बैक्टीरियल-रोधी और ऐंटीऑक्सिडेंट गुण होते हैं जो इसे सेहत के लिए फायदेमंद बनाते हैं। इसके अलावा भी कीवी के कई फायदे हैं, यहां जानें…

डेंगू में फायदेमंद

डेंगू के इलाज में प्लेटलेट्स काउंट बढ़ाने में कीवी लाभदायक है और पपीते के पत्तों के कड़वे रस के मुकाबले यह एक स्वादिष्ट विकल्प भी है। लेकिन यह अभी तक पूरी तरह से चिकित्सकीय तौर पर साबित नहीं हुआ है की कीवी का फल पूर्ण रूप से डेंगू को ठीक कर सकता है इसलिए पपीते के पत्ते का रस ही डेंगू में एक बेहतर विकल्प है। आप चाहें तो उसके साथ-साथ कीवी का सेवन भी कर सकते हैं।

कलेस्ट्रॉल कम करने में मददगार

हाइपरलिपीडेमिया यानी उच्च कलेस्ट्रॉल आज के समय में एक आम समस्या हो गई है और यह दुनिया भर में तेजी से बढ़ रही है। बदला हुआ लिपिड प्रोफाइल हृदय रोगों के खतरे को बढ़ाता है। 2009 में प्रकाशित एक अध्ययन में कीवी फल के लिपिड प्रोफाइल और लिपिड पेरोक्सिडेशन के अंकों पर प्रभावों की जांच की गई थी। अध्ययन में पाया गया कि बदलते लिपिड प्रोफाइल वाले लोगों ने हर सप्ताह दो कीवी फलों का सेवन 8 सप्ताह तक किया। इसमें पाया गया कि उनके एलडीएल यानी बैड कलेस्ट्रॉल के साथ कुल कलेस्ट्रॉल का स्तर कम हो गया और एचडीएल यानी गुड कलेस्ट्रॉल का स्तर काफी बढ़ गया।


स्किन के लिए फायदेमंद

प्राकृतिक रूप से त्वचा को सुंदर बनाने के लिए कीवी का उपयोग करें। 100 ग्राम कीवी में 92.7 मिलीग्राम विटमिन सी पाया जाता है, जो आपकी त्वचा को खूबसूरत बनाता है। कीवी न केवल एक स्वादिष्ट और पोषक तत्व युक्त फल है बल्कि आपकी त्वचा की देखभाल के लिए एक अच्छा प्राकृतिक संघटक भी है। कीवी में फाइबर और ऐंटीऑक्सिडेंट्स पाए जाते हैं जो ऐंटी-एजिंग की तरह काम करते हैं।

पेट की समस्या में लाभदायक

पेट में समस्या के कारण ही ज्यादातर रोगों की शुरुआत होती है इसलिए पेट को स्वच्छ और स्वस्थ रखना बहुत जरूरी है। कीवी में फाइबर के साथ-साथ पेट साफ करने का गुण भी होता है। एक रिसर्च में पाया गया है कि कीवी के रोजाना सेवन से कब्ज से पीडि़त लोगों में बिना किसी नुकसान के मल त्यागने की प्रक्रिया बढ़ जाती है।


अनिद्रा की समस्या दूर करे

जर्नल ऑफ क्लीनिकल न्यूट्रिशन में प्रकाशित एक अध्ययन ने नींद की समस्याओं वाले वयस्कों में नींद की गुणवत्ता पर कीवी फल के प्रभावों को देखा। पाया गया की कीवी खाने से उन लोगो की नींद में सुधार हुआ।

हर दिन 2 कीवी से ज्यादा न खाएं

डायटिशन डॉ पूनम तिवारी कहती हैं, कीवी खाने से ऐलर्जी की समस्या हो सकती है। कीवी का ज्यादा मात्रा में सेवन दस्त का कारण बन सकता है। ऐसे में डॉक्टर से संपर्क करें। एक स्वस्थ व्यक्ति रोज दो कीवी तक खा सकता है। किसी भी चीज की अति बुरी होती है लिहाजा कीवी खाएं लेकिन संतुलित मात्रा में।