डीन जोंस : विराट की टीम इंडिया वैसे ही ‘डराती’ है, जैसा 1980 के दशक में वेस्टइंडीज डराता था

जनता से रिश्ता वेबडेस्क:- ऑस्ट्रेलिया में टेस्ट सीरीज जीतकर इतिहास रचने वाली ‘विराट कोहली एंड कंपनी’ अब विरोधी टीमों को डराने भी लगी है. यह स्वीकारोक्ति किसी और ने नहीं, ऑस्ट्रेलिया के दिग्गज क्रिकेटर डीन जोंस ने की है. डीन जोंस ने कहा कि भारत की मौजूदा टीम किसी भी टीम के खिलाफ कहीं भी मैच जीत सकती है. भारत ने ऑस्ट्रेलिया को उसके घर में 71 साल में पहली बार टेस्ट सीरीज में हराया है. इतना ही नहीं, उसने ऑस्ट्रेलिया में पहली बार द्विपक्षीय वनडे सीरीज भी जीती.

57 साल के डीन जोंस एक अंग्रेजी अखबार के लिए लिखते हैं, ‘भारत की मौजूदा टीम बिलकुल वैसी ही है, जैसी 1980-90 के दशक की वेस्टइंडीज की टीम थी. वे अपने प्रदर्शन में निरंतरता कायम रखत सकते हैं और किसी भी टीम को उसके घर में हराने का माद्दा रखते हैं. वेस्टइंडीज ने अपनी इस क्षमता के दम पर एक तरह का ‘डर का माहौल’ बना लिया था, और अब भारतीय टीम भी कुछ उसी स्थिति में है.’ भारतीय टीम की ‘दहशत’ स्वीकार करने वाले डीन जोंस वही खिलाड़ी हैं, जिन्हें 1980-90 के दशक का सबसे बेहतरीन बल्लेबाजों में गिने जाते हैं. उन्होंने जब 1994 में संन्यास लिया तो उस वक्त दुनिया के सिर्फ दूसरे बल्लेबाज थे, जिसके नाम 44 से अधिक की औसत से 6000 रन दर्ज थे. पहला नाम विवियन रिचर्ड्स (47.0 की औसत से 6721 रन) का था.

डीन जोंस ने ‘टाइम्स ऑफ इंडिया’ के लिए अपने कॉलम में लिखा, ‘यह भारतीय टीम का अब तक का सबसे बेहतरीन दौरा था. भारतीय टीम के खेल के सवाल पर सिर्फ एक ही मैच को लेकर सवाल उठाए जा सकते हैं और वह पर्थ टेस्ट है. लेकिन कुल मिलाकर टीम के सभी खिलाड़ियों ने जीत में अहम योगदान दिया और यह उनके लिए एक अच्छा विदेशी दौरा था.भारतीय टीम ऑस्ट्रेलिया में टेस्ट और वनडे सीरीज जीतने के बाद अब न्यूजीलैंड पहुंच चुकी हैं. भारतीय टीम यहां वनडे और टी20 सीरीज खेलेगी. सीरीज का पहला वनडे मैच 23 जनवरी को खेला जाएगा. न्यूजीलैंड दौरे के लिए भारतीय टीम में जसप्रीत बुमराह को भी शामिल किया गया है. उन्हें ऑस्ट्रेलिया के साथ खेली गइ वनडे सीरीज के दौरान रेस्ट दिया गया था.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here