डिप्रेशन को दूर करते हैं पालतू जानवर

जनता से रिश्ता वेबडेस्क:- अगर आप तनाव यानी अवसाद महसूस कर रहे हैं तो आप प्रकृति के पास जाइए, यह आपको जरूर लाभ दिलाएगा। आप पेड़-पौधे, ताल-तलाब, नदी-समुद्र और जानवरों के पास जाएंगे तो आपको बहुत फर्क समझ में आएगा। आपने कई बार देखा या अनुभव किया होगा, जब आप रो रहे होते हैं और कुत्ते ने आपको ऐसा करते देखा तो वो आपके पास आकर बैठ जाएगा और आपको खुश करने की कोशिश करेगा। थोड़ी देर बाद आप भी अपने गम भूलकर कुत्ते के संग खेलने लगते हैं।आप अगर बहुत ज्यादा डिप्रेशन में हैं तो कुत्ते पालिए, बिल्ली पालिए, कोई भी पालतू जानवर घर में रखिए उससे बातें कीजिए, आप देखेंगे जल्द ही आपके गम दूर हो गए हैं। जहां आज की इस निष्ठुर दुनिया में कोई आपका साथ नहीं देता है हर कोई फायदा उठाने की कोशिश करता है वहीं ये मासूम जानवर आपको बिना किसी शर्त के प्यार करते हैं। आप मछलियां पालिए उनके नाम रखिए उनसे बातें कीजिए। जानवरों को प्यार करना, उनकी आंखों में झांकना उनके सिर पर हाथ फेरना आपको खुशी देगा। गाय और बकरी को घास खिलाइए, उनके स्पर्श से आपके शरीर में खुशी की बिजली पैदा होगी। जो सुख आपको जानवरों और प्रकृति के बीच मिलेगा वो आपको किसी भी तरह की विलासिता नहीं दे सकती है।

‘अमेरिकन जनरल ऑफ मेडिकल साईंस’ में प्रकाशित एक शोध में भी यह बात साबित हुई है। इस शोध में कुछ विकलांग लोगों को कुत्ता दिया गया और कुछ को ऐसे ही रहने दिया गया। यह देखा गया कि जिन लोगों ने कुत्तों को अपना साथी बना लिया था वो अधिक खुश और स्वस्थ नजर आए थे। आप दुखी हैं और अवसाद के शिकार हैं तो दवाइओं पर अपने पैसे मत खर्च करिए। एक पालतू जानवर पालिये। कुत्ता, बिल्ली, कबूतर, तोता, खरगोश उनसे बातें करिए। इन्हें खाना खिलाइए। उनकी आवाज और मासूमियत आपके दुख और एकांत को कम कर देंगी। तो सोच क्या रहे हैं आज ही कोई पालतू जानवर या पक्षी अपने घर ले आइए। मम्मी मना करें तो उन्हें ये लेख पढ़ा दीजिएगा।