टीचर ने अनोखे तरीके से ‘बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ’ स्लोगन लिखवाकर शादी का कार्ड छपवाया

Hits: 30

जनता से रिश्ता वेबडेस्क :    हम सब ने बेटियों को बचाने और पढ़ाने के लिए कई कहानियां और स्लोगन सुने और पढ़ें हैं. वहीं एक शख्स ने अनोखे तरीके से ‘बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ’ स्लोगन लिखवाकर समाज को एक नया संदेश दिया है. उत्तर प्रदेश के शिक्षक ने सामाजिक मुद्दों के बारे में जागरूकता फैलाने का एक नया तरीका निकाला है. दरअसल उन्होंने अपनी शादी के कार्ड में ‘बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ’ स्लोगन लिखवाया है. ताकि जो भी मेहमान उनके कार्ड को देखें तो उन्हें समझ आए कि समाज में बेटियों का क्या महत्व है.

अनोखी पहल: टीचर ने शादी के कार्ड में छपवाया- बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ

जहां लोग शादी के कार्ड में काफी कुछ लिखवाते और सजावट करवाते हैं. वहीं उन्होंने शादी के कार्ड को फैंसी रखने के बजाय ‘बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ’ लिखना ही सही समझा. ताकि वह समाज को एक मैसेज दे सके.  बता दें, यूपी के इस शिक्षक का नाम मोहम्मद अक्विल है. उन्होंने करीब 300 लोगों को निमंत्रण भेजा है. वह मौलाना आजाद इंटर-कॉलेज, संत कबीर नगर में सहायक शिक्षक हैं.  30 साल मोहम्मद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की द्वारा बालिका को शिक्षित करने के लिए शुरू किए गए अभियान का समर्थन कर रहे हैं. ताकि ज्यादा से ज्यादा लोग जागरूक हो सके.

मोहम्मद ने बताया, “लोग इन दिनों बिना किसी जरूरी संदेश के साथ फैंसी शादी के निमंत्रण कार्ड चुनते हैं. मैंने कुछ अलग करने के बारे में सोचा. जिसके बाद मैंने ”बाल अभियान” पर जागरूकता फैलाने का विचार किया और कार्ड छपवाए. मैं अपनी इस छोटी सी पहल के जरिए लोगों को बेटियों की प्रति समझाने का प्रयास कर रहा हूं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here