टाटा सूमो की बिक्री हमेशा के लिए बंद, 25 साल पहले हुई थी लॉन्च

 

जनता से रिश्ता वेबडेस्क – आज से कुछ साल पहले तक टाटा की सूमो की भारतीय बाजार में मजबूत पकड़ थी. शहर के मुकाबले गांव और छोटे कस्बों में सूमो ज्यादा लोकप्रिय थी. लेकिन अब Tata Sumo ने भारतीय बाजार को अलविदा कह दिया है. अब बस टाटा सूमो यादों में रह जाएगी.

टाटा सूमो की बिक्री हमेशा के लिए बंद, 25 साल पहले हुई थी लॉन्च

टाटा सूमो ने करीब 25 साल तक भारत में राज किया. दरअसल टाटा सूमो भारतीय बाजार में पहली बार 1994 में आई थी. 25 सालों के लंबे वक्त के बाद अप्रैल 2019 में कंपनी ने इसका प्रोडक्शन बंद कर दिया था. अब यह बिक्री के लिए टाटा डीलरशिप पर भी मौजूद नहीं है.

टाटा सूमो की बिक्री हमेशा के लिए बंद, 25 साल पहले हुई थी लॉन्च

हालांकि अभी तक कंपनी की ओर से टाटा सूमो के बंद किए जाने को लेकर कोई आधिकारिक बयान सामने नहीं आया है. टाटा सूमो की कीमत 7.39 लाख से 8.77 लाख रुपये के बीच थी.

टाटा सूमो की बिक्री हमेशा के लिए बंद, 25 साल पहले हुई थी लॉन्च
दरअसल टाटा मोटर्स ने सूमो की बिक्री अब हमेशा के लिए बंद कर दी है. इसकी बिक्री बंद किए जाने के पीछे इसका मॉडल आउटडेटेड होना बताया जा रहा है. लेटेस्ट सेफ्टी नार्म्स BS-6 के अनुरूप बनाने के लिए इसमें बड़े स्तर पर बदलाव करने पड़ते
टाटा सूमो की बिक्री हमेशा के लिए बंद, 25 साल पहले हुई थी लॉन्च
इसके अलावा सूमो को बंद किए जाने की सबसे बड़ी वजह वर्षों से लगातार इसकी घटती बिक्री मानी जा रही है. कहा जा रहा है कि इसे अपडेटेड करने में कंपनी को बड़ा निवेश करना पड़ता जो कि कंपनी को फायदा का सौदा नहीं लगा, इसलिए इसे बंद करना का फैसला लिया गया.
टाटा सूमो की बिक्री हमेशा के लिए बंद, 25 साल पहले हुई थी लॉन्च
बता दें, टाटा सूमो का सबसे अपडेट वर्जन Sumo Gold था. इसमें सरकार द्वारा अनिवार्य किए गए सेफ्टी फीचर्स जैसे ड्युअल एयरबैग्स, एबीएस, सीट बेल्ट रिमाइंडर, स्पीड अलर्ट सिस्टम और रिवर्स पार्किंग सेंसर नहीं दिए गए थे. जबकि 1 अक्टूबर 2019 से भारत में बिकने वाली सभी कारों में ये जरूरी कर दिए गए हैं.
टाटा सूमो की बिक्री हमेशा के लिए बंद, 25 साल पहले हुई थी लॉन्च

टाटा सूमो गोल्ड में बीएस4 एमिशन नॉर्म्स वाला 3.0-लीटर, 4-सिलिंडर डीजल इंजन है, जो कि 85 पीएस पावर और 250 एनएम का पीक टॉर्क जेनरेट करता है. इसके चलते यह BS-6 एमिशन स्टैंडर्ड्स के अनुरूप अपग्रेड हो सकने वाली गाड़ियों में शामिल नहीं हो सकी. जिस वजह से टाटा सूमो ने बाजार को अलविदा कह दिया