टमाटर के दाम 80 रुपये प्रति किलोग्राम के पार पहुंच गए

जनता से रिश्ता वेबडेस्क :- हर साल की तरह इस साल भी बारिश के मौसम में टमाटर की कीमतें तेजी से बढ़ने लगी है. दिल्ली समेत कई राज्यों में टमाटर के दाम 80 रुपये प्रति किलोग्राम के पार पहुंच गए है. केंद्रीय उपभोक्ता मामलों के मंत्रालय की ओर से जारी कीमतों में बताया गया है कि दिल्ली और आसपास के इलाकों में टमाटर की कीमत 60 से 80 रुपये किलो तक पहुंच गई है. इस बीच केंद्र सरकार ने बढ़ती कीमतों को थामने के लिए और आम लोगों को राहत पहुंचाने के लिए तत्काल बड़ा कदम उठाया है. सरकार ने मदर डेयरी से टमाटर को 40 रुपये किलो बेचने के लिए कहा है. आपको बता दें कि मदर डेयरी दिल्‍ली-एनसीआर में अपने लगभग 100 सफल आउटलेट्स के जरिये फल और सब्जियों की बिक्री करती है.

यहां से खरीदें सस्ते में टमाटर- टमाटर की कीमतों पर नियंत्रण के लिए सरकार ने तत्‍काल कदम उठाया है. राष्‍ट्रीय राजधानी में टमाटर की बढ़ती कीमतों के मद्देनजर केंद्र सरकार ने मदर डेयरी से टमाटर की उपलब्‍धता बढ़ाने और इसकी बिक्री 40 रुपए प्रति किलोग्राम की दर से करने को कहा है.

दिल्‍ली सरकार ने भी थोक कारोबारियों से मंडी में टमाटर की आपूर्ति बढ़ाने के लिए कहा है ताकि बढ़ती कीमतों पर अंकुश लगाया जा सके.दिल्‍ली में टमाटर की बढ़ती कीमतों को देखते हुए उपभोक्‍ता मामलों के सचिव अविनाश के श्रीवास्‍तव की अध्‍यक्षता में एक उच्‍च स्‍तरीय अंतर मंत्रालयीन समिति की बैठक में निर्णय लिया गया कि दिल्‍ली में मदर डेयरी 40 रुपए प्रति किलो की दर से टमाटर उपलब्‍ध कराएगी.

क्यों बढ़ रही हैं देश में टमाटर की कीमतें…
>> इंडस्ट्री के एक्सपर्ट्स बताते हैं कि सूखे की स्थिति की वजह से किसान टमाटर की फसल नहीं लगा पाए, जिसकी वजह से सप्लाई घट गई है. महाराष्ट्र में टमाटर की सप्लाई अब गुजरात और कर्नाटक से हो रही है.बारिश की वजह से देश में टमाटर की आवक घट गई है
>> उत्तर प्रदेश और बिहार भी टमाटर की भारी कमी हैं. पिछले कई दिनों से लगातार हुई भारी बारिश के कारण इन राज्यों में टमाटर की फसलें प्रभावित हुई हैं.
>> ये राज्य दिल्ली के मार्केट में टमाटर की सप्लाई करते हैं और इस वजह से दिल्ली-एनसीआर में भी टमाटर की कीमतें आसमान छूती दिख रही हैं.

अब कब होंगे सस्ते!

>> महाराष्ट्र में टमाटर के सबसे बड़े थोक बाजारों में से हैं. यहां के कारोबारियों का कहना है कि हाल में महाराष्ट्र में भारी बारिश हुई, जिसके कारण फसल पर असर पड़ा है. जिस वजह से अगले एक महीने से अधिक समय तक टमाटर की कीमतों में तेजी से कोई राहत नहीं मिलने वाली है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here