जानिए पंचमेल दाल बनाने की रेसिपी

जनता से रिश्ता वेबडेस्क | कई लोग रोज के खाने में दाल चावल खाना पसंद करते हैं. दालों में प्रोटीन प्रचुर मात्रा में पाया जाता है जो हमारे शारीरिक विकास के लिए बेहद जरूरी है. लेकिन अगर रोज वही दाल खायी जाए तब भी बोरियत और उकताहट हो सकती है. इसलिए आज हम आपको बताएंगे कि कैसे बनायी जाए पंचमेल दाल. पंचमेल दाल राजस्थान की डिश है. इसमें दालों को बराबर मात्रा में मिलाकर बनाया जाता है जिससे या काफी पौष्टिक भी होती है. राजस्थान में इसे लोग ज़्यादातर चूरमा बाटी के साथ खाना पसंद करते हैं. लेकिन आप इसे चपाती और पुलाव के साथ भी खा सकते हैं. आइए जानते हैं पंचमेल दाल की रेसिपी

सामग्री:
चना दाल – 2 टेबल स्पून
अरहर दाल – 2 टेबल स्पून

उड़द दाल – 2 टेबल स्पून
मूंग दाल – 2 टेबल स्पून
मसूर दाल – 2 टेबल स्पून

हरा धनिया – 2 – 3 टेबल स्पून(बारीक कतरा हुआ)
घी – 2-3 टेबल स्पून
जीरा – 1/2 छोटी चम्मच
हल्दी पाउडर – 1/2 छोटी चम्मच
धनिया पाउडर – 1 छोटी चम्मच
लाल मिर्च पाउडर – 1/4 छोटी चम्मच
टमाटर – 1 (बारीक कटा)
हींग – 1/2 चुटकी
अदरक – 1/2 इंच लम्बा टुकड़ा (बारीक कटा हुआ)
बडी इलायची –
लौंग – 2
काली मिर्च- 10
करी पत्ता – 10
साबुत लाल मिर्च – 2
हरी मिर्च – 2
नमक – स्वादानुसार

पंचमेल दाल बनाने की रेसिपी:
1. दालों को एकसाथ पानी से धोकर साफ कर लीजिए. इसके बाद इसे एक से डेढ़ घंटे के लिए पानी में भिगोकर रख दें ताकि अच्छे से फूल जाए. बाद में बाकी का पाकी फेंक दें.

2.कूकर में दाल डालकर इसमें पानी भरें. हल्दी और नमक डालकर कूकर बंद कर दें. एक सीटी आने के बाद आंच धीमी कर दें और 2 से 3 मिनट तक दाल को पकने दें. इसके बाद गैस बंद कर दें और थोड़ी देर इन्तजार करने के बाद कूकर का ढक्कन खोलिए.

3.एक गहरे तले वाले पैन में घी गर्म करें और उसमें जीरा तड़कायें, हींग, हल्दी, धनिया पाउडर, अदरक कटा, मीठी नीम (करी पत्ते), कटी हरी मिर्च, लाल मिर्च साबुत डालकर चलाते हुए हल्का भून लें. अब इसमें टमाटर डालकर चलाएं. इसे तब तक चलाते हुए भूनें जब तक मसाला और घी अलग अलग न दिखने लगे. लेकिन ध्यान रहे कि मसाला पैन की तलहटी में लगी नहीं. अब इसमें कुटी बड़ी इलायची, दरदरी पीसी काली मिर्च, लाल मिर्च पाउडर और लौंग को मसाले में डालकर चलाते हुए भून लें

.4.जब मसला और घी अलग होने लग तो इसे पकी हुई दाल में डालकर अच्छे से मिलाएं और ऊपर से थोड़ा सा कटा हरा धनिया भी डालकर मिलाएं. दाल को 2, 3 सीटी और दें. अब आंच बंद कर दीजिए.

5. लीजिए तैयार है आपकी राजस्थानी पंचमेल दाल (Panchratna Dal). अब इसे बाटी चोखे या फिर चपाती या पुराव के साथ भी मजे लेकर खा सकते हैं.