जानिए खिचड़ी खाने के 5 बड़े फायदे

जनता से रिश्ता वेबडेस्क | जनखिचड़ी भले ही एक लोकप्रिय खाना हो लेकिन कई लोगों को ये बिल्कुल पसंद नहीं आती. खिचड़ी में शौकिया तौर पर लोग दाल और तरह तरह की सब्जियों का प्रयोग करते हैं. वैसे तो खिचड़ी में ज्यादा मसालों का प्रयोग नहीं किया जाता लेकिन अक्सर लोग इसमें अपने स्वाद और जरूरतों के मुताबिक मसाले और अन्य चीजों को भी मिलाते हैं. भूख लगने या फिर पेट खराब होने की स्थिति में झटपट से बनने वाली ये खिचड़ी हमारी सेहत के लिए बहुत फायदेमंद साबित होती है. अक्सर आपने लोगों के मुंह से सुना होगा कि खिचड़ी मरीजों का खाना होती है जबिक ऐसा नहीं है क्योंकि इसे बीमार के साथ-साथ स्वस्थ व्यक्ति भी बड़े चाव से खा सकते हैं. खिचड़ी खाने के भी कुछ ऐसे फायदे हैं जो आपकी सेहत और मूड को एकदम दुरुस्त रखते हैं. आइए आपको बताते हैं खिचड़ी खाने के 5 बड़े फायदों के बारे में

वात, पित्त और कफ से छुटकारा

आपको बता दें कि खिचड़ी आयुर्वेदिक डाइट का एक बेहद ही जरूरी हिस्सा है. नियमित रूप से खिचड़ी का सेवन करने से वात्त, पित्त और कफ की समस्या से छुटकारा मिलता है. इतना ही नहीं खिचड़ी शरीर को डिटॉक्स करने के साथ-साथ एनर्जी लेवल बढ़ाने और इम्युनिटी को सुधारने में भी मदद करती है.

एनर्जी और पोषण देती खिचड़ी

दाल, चावल, सब्ज‍ियों और विभिन्न मसालों से तैयार खिचड़ी जितनी देखने में स्वादिष्ट लगती है उतनी ही पोषण से भरपूर होती है. खिचड़ी में मौजूद पोषक तत्व हमारे शरीर को एनर्जी और पोषण देने का काम करते हैं. नियमित रूप से खिचड़ी का सेवन आपके शरीर को सभी प्रकार के पोषक तत्व देने का काम करता है.

आंत और पेट के लिए फायदेमंद

खिचड़ी में आमतौर पर ज्यादा मसालों का प्रयोग नहीं किया जाता, यही कारण है कि खिचड़ी हमेशा से एक हेल्दी फूड मानी जाती रही है. आयुर्वेद में खिचड़ी को हमारी आंत और पेट के लिए बहुत फायदेमंद बताया गया है. खिचड़ी पाचन क्रिया को दुरुस्त रखने में मदद करती है, जिसके कारण हमारा पेट सही रहता है और हम बीमारियों की चपेट में नहीं आते हैं.

कब्ज की समस्या को करती है दूर

गर्भावस्था के दौरान अक्सर महिलाओं को कब्ज या अपच की समस्या रहती है. वहीं बाहर का खाना ज्यादा खाने से भी लोगों के पेट में यह समस्या हो जाती है. अगर आप ऐसी ही किसी स्थिति से परेशान हैं तो खिचड़ी खाना आपके लिए फायदेमंद साबित हो सकता है. खिचड़ी खाने के बाद पेट में भारीपन नहीं रहता और खाना जल्दी पच जाता है.

मूड ठीक करने में लाभकारी

अक्सर कामकाजी पुरुष व महिलाएं काम के बाद खाना बनाने से कतराते हैं और जल्दबाजी में बाहर से कुछ भी खा लेते हैं. अगर आप भी उन्हीं लोगों में से हैं, जो ऐसा करते हैं या आपके पास खाना बनाने का समय और मूड नहीं है तो खिचड़ी सबसे आसान तरीका है. यह जल्दी तो बन ही जाती है साथ ही स्वादिष्ट भी होती है. आप चाहे तो इसमें अपने मनमुताबिक दाल, मूंगफली और अन्य सामग्री डाल सकते हैं.