जानिए आधार कार्ड से जुड़े 10 जरूरी बातें। जनता से रिश्ता

file photo

जनता से रिश्ता वेबडेस्क -आधार की 10 जरूरी बातें जो आपके लिए जानना बहुत जरूरी हैं…
आधार UIDAI द्वारा निर्धारित सत्यापन प्रक्रिया को पूरा करने के बाद भारत के सभी निवासियों को जारी की जाने वाली 12 अंकों की एक रैंडम संख्‍या है। किसी भी आयु का कोई भी व्यक्ति जो भारत का निवासी है, बिना किसी लिंग भेद के अपना आधार कार्ड बनवा सकता है।
आधार कार्ड बनवाने के लिए व्यक्ति को नामांकन प्रक्रिया के दौरान न्‍यूनतम जनसांख्यिकीय और बायोमेट्रिक सूचना उपलब्‍ध करवानी होती है। एक व्यक्ति एक ही बार आधार के लिए नामांकन करवा सकता है। आधार कार्ड को बैंक अकाउंट, पैन कार्ड, मोबाइल नंबर आदि से लिंक करवाना अनिवार्य हो गया है। आइए जानते हैं आधार से जुड़ी 10 जरूरी बातें…

  1. भारतीय नागरिकों के लिए Aadhaar Card पहचान का एक महत्वपूर्ण दस्तावेज है। इसमें नाम, पते और अन्य चीजों के अतिरिक्त व्यक्ति की बायोमैट्रिक जानकारी भी रहती है।
  2. सुरक्षा के कारणों से अगर आप अपना आधार नंबर शेयर नहीं करना चाहते हैं, तो आधार की नियामक संस्था यूआईडीएआई (UIDAI) आपको एक और विकल्प देती है। ये विकल्प है वर्चुअल आईडी (VID) के प्रयोग का। वीआईडी आधार नंबर से जुड़ा हुआ 16 अंकों का अस्थायी नंबर है। ई-केवाईसी (e-KYC) के दौरान वीआईडी का प्रयोग पहचान के सत्यापन के लिए किया जा सकता है।
  3. आपका आधार आपके मोबाइल नंबर से लिंक होना चाहिए। आधार कार्ड में मोबाइल नंबर जोड़ने से आपको इसके अपडेट की सूचनाएं भी इस पर मिलती रहेंगी। जिस टेलीकॉम कंपनी का सिम आपके पास है, उसके आउटलेट पर जाकर आप आधार को सिम नंबर से लिंक करवा सकते हैं।
  4. अगर आपका Aadhaar Card गुम हो गया है और आपका मोबाइल नंबर उससे नहीं जुड़ा है तो या बदल गया है तो uidai की वेबसाइट पर ‘ऑर्डर आधार रीप्रिंट’ सेवा का लाभ उठा सकते हैं। आधार रीप्रिंट करने के लिए आपको 50 रुपए का भुगतान करना होगा। जरूरी फॉर्मलिटी पूरी करने के बाद यह कार्ड आपके घर पहुंच जाएगा।
  5. आधार में आपका सही पता होना जरूरी है। घर बदलने या अन्य किसी कारण से अगर आप Aadhaar में पता बदलवाना चाहते हैं। तो आपके पास वैध पते का प्रमाण या पते का वैधीकरण (जिनके पास पते का वैध प्रमाण नहीं है) होना चाहिए। आप अगर किराए के घर में रहते हैं तो मकान मालिक का कोई दस्तावेज प्रस्तुत कर आधार में पते को बदलवा सकते हैं।
  6. अगर आपके Aadhaar Card में जन्म तारीख सही नहीं है तो आप इसे आधार केंद्र या फिर ऑनलाइन सही करवा सकते हैं। UIDAI के अनुसार बर्थ सर्टिफिकेट, पासपोर्ट, पैन कार्ड, मार्कशीट आदि 9 तरह के डॉक्यूमेंट जन्म तारीख के लिए मान्य होंगे।
  7. आयकर रिटर्न भरने के लिए अपने आधार नंबर को पैन कार्ड से जोड़ना आवश्यक है। ऐसा किए बिना आयकर रिटर्न नहीं भरा जा सकता है। आप आयकर विभाग की वेबसाइट या 567678 या 56161 पर SMS के जरिए भी जान सकते हैं कि दोनों लिंक है या नहीं।
  8. आधार कार्ड नामांकन केंद्र में जाकर आप आधार कार्ड में दर्ज अपनी जानकारी (नाम, पता, जन्मतिथि, मोबाइल, ई-मेल) के साथ-साथ अपनी बायोमैट्रिक जानकारी भी बदल सकते हैं। इसके लिए आपको सभी ओरिजनल दस्तावेज के साथ उनकी एक कॉपी लेकर जानी होगी।
  9. UIADI ने एक मोबाइल इंटरफेस ‘mAadhaar’ लांच किया है। इससे सबसे बड़ा फायदा यह है कि आपके मोबाइल में आपका आधार होगा। ‘mAadhaar’ ऐप इस्तेमाल करने के लिए, एक रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर होना अनिवार्य है।
  10. Aadhaar Card को बनाने, उसमें सुधार और लोगों में डिजिटल प्रक्रिया को समझाने के लिए UIDAI ने #MYAadhaaronline Contest शुरू किया है। इसमें विजेता को 30,000 रुपए तक नकद जीतने का मौका मिल रहा है।