जानवरों से प्यार ऐसा है कि पति को छोड़ उनके साथ रहती है महिला

जनता से रिश्ता वेबडेस्क :    आपने कभी कुत्ते, बिल्ली, कबूतर और बाज को एक साथ एक छत के नीचे प्यार से मिलजुल कर रहते हुए देखा है. आरिफा जैदी के छोटे से घर में सभी तरह के जानवर एक साथ मिलजुल कर रहते हैं.  पेशे से ब्रोकर आरिफा सरिता विहार की जनता कॉलोनी के एक छोटे से फ्लैट में 2006 से रह रही हैं. परिवार में बेटे और बेटी हैं. कहने को तो ये जनता फ्लैट आम आदमी के एक परिवार के लिए छोटा पड़ जाए. लेकिन आरिफा के दिल की तरह उनके घर में बेसहारा और मुसीबत में फंसे जानवरों के लिए खूब सारी जगह है.

बचपन का शौक बड़े होते ही आरिफा के जीने का मकसद बन गया. उन्होंने शादी के बाद भी इसे जारी रखा. लेकिन पति को आरिफा का ये जुनून रास नहीं आया. उन्होंने आरिफा के सामने जानवरों और उनके बीच में किसी एक को चुनने की शर्त रख दी. इस पर आरिफा ने जरूरतमंद जानवरों का साथ दिया और तब से ही वो अपने दो बच्चों, 25 बिल्लियां, 20 कुत्ते और ढेरों पशुओं के साथ अपने छोटे से मकान में रहती हैं.  आरिफा को पति के साथ-साथ मोहल्ले वालों के विरोध का भी सामना करना पड़ता है. उनके पड़ोसियों से उनकी अक्सर इसी बात पर तू-तू मैं-मैं होती है. उनको वैसे भी सरकारी या आम लोगों से कोई आर्थिक मदद नहीं मिलती है. इसके अलावा उसे विरोध का सामना करना पड़ता है. इतनी महंगाई में बड़े होते अपने बेटे और बेटी की परवरिश करना बेहद मुश्किल होता है. लेकिन वो खुले दिल से किसी भी घायल जानवर को अपने घर मे पनाह देती हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here