जयपुर को क्यों कहा जाता है गुलाबी नगरी

जनता से रिश्ता वेबडेस्क:- अगर आप भी इन गर्मियों की छुट्टियों मे जयपुर आने का प्लान बना रहे हैं, अगर हां तो आज हम आप लोगो को कुछ ऐसे मंदिरों के बारे मे बताने जा रहे है, जो की अपने चमत्कारों की वजह से मशहूर है, आप सभी को बता दें कि यहां हर साल लाखों भक्त आते है, बता दें कि कुछ मंदिरों के बारे मे कहा जाता है, कि अगर आप यहां जोड़े मे फूल चड़ाते है, तो आपकी मन्नत 21 दिन मे पूरी हो जाती है।

बिड़ला मंदिर

आप सभी को बता दें कि बिड़ला मंदिर जयपुर के सबसे खूबसूरत मंदिर मे से एक मंदिर माना जाता है, आप सभी को बता दें कि बिड़ला मंदिर मे हर दिन कोइ न कोइ काम चलता रहता है, कहा जाता है कि अगर आप बिड़ला मंदिर के काम कराने मे दान देते है, तो इसका आपको बहुत पुन्य मिलता है, आप सभी को बता दें कि सन 1988 में बिड़ला परिवार द्वारा इस मंदिर का निर्माण हुआ था, बता दें कि पूरे जयपुर मे ये एक मात्र ऐसा मंदिर है, जहां विशनु जी और लक्षमी जी की मूरती है।

गोविंद देव जी मंदिर

आप सभी को बता दें कि मंदिर का निर्माण महाराजा प्रताप सवाई सिंह द्वितीय ने वर्ष 1735 में करवाया था, कहा जाता है कि अगर आप गोविंद देव जी के मंदिर मे अगर फूल जोड़े से चड़ाते हैं, को आपकी मन्नत 21 दिन मे पूरी हो जाती है, और ये भी कहा गया है कि अगर आप यहां ज़ोड़े से फूल नही चड़ाते हैं, तो आपकी मन्नत पूरी नही होती, आप सभी को बता दें कि मंदिर सुबह 4.30 से 11.30 और शाम 5.45 से रात 9.30 तक खुला रहता है।

गलताजी मंदिर

आप सभी को बता दें कि गलताजी का मंदिर एक मात्र ऐसा मंदिर है, जहां अगर आप वहां के पानी मे बिना सनाने करके जाते हैं, तो आपकी मन्नत पूरी नही होती, बता दें कि अगर आपको अपनी मन्नत पूरी करनी है, तो आपको पहले वहां के कुंड मे सनान लेना होगा, तभी आपकी मन्नत पूरी होगी, आप सभी को बता दें कि मंदिर दिन भर खुला रहता है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here