जन-चौपाल के दौरान मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से बड़ी संख्या में लोगो ने की मुलाकात…सड़क, सामुदायिक भवन के लिए ग्रामीणों ने दिए आवेदन

जनता से रिश्ता वेबडेस्क। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से आज यहां उनके निवास में जन चौपाल, भेंट-मुलाकात कार्यक्रम में प्रदेश के विभिन्न जिलों से आए लोगों ने मुलाकात कर उन्हें अपनी समस्याएं बताईं और उनसे समस्याओं के निराकरण का आग्रह किया। मुख्यमंत्री ने उनकी समस्याओं के निराकरण के लिए आवश्यक निर्देश अधिकारियों को दिए। बालोद जिले के डौंडीलोहारा विकासखंड के कमकापार से आए ग्रामीणों के प्रतिनिधि मंडल ने गांव में एक डामर सड़क बनाने के लिए मुख्यमंत्री को आवेदन दिया।

उन्होंने बताया कि यह आस पास का बड़ा गांव है। इस गांव के आसपास 10 गांव हैं और इस गांव में हर सप्ताह बाजार लगता है। यहां की आबादी लगभग 1500 है, यदि यहां सड़क बनती है, तो इससे आसपास के ग्रामीणों को भी काफी सहूलियत मिलेगी । मुख्यमंत्री के निर्देश पर उनका आवेदन लोक निर्माण विभाग को आवश्यक कार्रवाई के लिए भेजा गया है। उत्तर बस्तर कांकेर से आए कंडरा जनजाति समाज के प्रतिनिधि मंडल ने मुख्यमंत्री से मुलाकात करके उनसे कांकेर में एक सामाजिक सामुदायिक भवन बनवाने का आग्रह किया। समाज के अध्यक्ष देव प्रकाश उईके ने मुख्यमंत्री को इस संबंध में आवेदन दिया। मुख्यमंत्री ने उन्हें प्राधिकरण के माध्यम से इसके लिए स्वीकृति दिलाने का आश्वासन दिया। नई राजधानी प्रभावित किसान कल्याण समिति के प्रतिनिधि मंडल ने भी मुख्यमंत्री से मुलाकात की और अपनी विभिन्न मांगों के संबंध में उन्हें ज्ञापन सौंपा। मुख्यमंत्री ने उनकी मांगों पर सहानुभूति पूर्वक विचार करने का आश्वासन दिया। मुख्यमंत्री के निर्देश पर प्रतिनिधि मंडल द्वारा सौंपा गया ज्ञापन परीक्षण के लिए मुख्य सचिव को भेजा गया है।
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से दंतेश्वरी मैय्या शक्कर कारखाना कर्मचारी यूनियन बालोद के प्रतिनिधि मंडल ने मुलाकात की। उन्होंने कर्मचारियों के नियमितीकरण के संबंध में ज्ञापन सौंपा। मुख्यमंत्री ने उनके ज्ञापन पर सहानुभूतिपूर्वक विचार करने का आश्वासन दिया। रायपुर शहर के ईसाई समाज के प्रतिनिधि मंडल ने मुख्यमंत्री से मुलाकात कर उनसे रायपुर शहर में कब्रिस्तान के लिए भूमि उपलब्ध कराने का आग्रह किया। मुख्यमंत्री के निर्देश पर उनका आवेदन आवश्यक कार्रवाई के लिए कलेक्टर रायपुर को भेजा गया है।