छत्तीसगढ़: जीसटी भवन में शराबबंदी के लिए गठित कमेटी की प्रथम बैठक में कांग्रेस और बसपा के विधायक हुए शामिल

जनता से रिश्ता वेबडेस्क :-   रायपुर: छत्तीसगढ़ राज्य में पूर्ण शराबबंदी की अनुशंसा के लिए गठित की गई प्रमुख राजनीतिक दलों के विधायकों की समिति की प्रथम बैठक आज नवा रायपुर के जीसटी भवन में आयोजित की गई। इस बैठक में कांग्रेस और बसपा के ही विधायक शामिल हुए। जबकी भाजपा और जनता कांग्रेस जोगी ने अपने किसी भी विधायक के नाम की अनुशंशा अभी तक इस समिति के लिए नहीं की है।समिति के अध्यक्ष सत्यनारायण शर्मा ने समिति के सदस्यों से पूर्णशराब बंदी के लिए सुझाव मांगे। बैठक में शर्मा ने कहा कि शराबबंदी के निर्णय को लागू करने के लिए विभिन्न सामाजिक संगठनों के साथ विचार-विमर्श किया जाएगा और जिन राज्यों में शराबबंदी की गई है वहाँ अध्ययन दल भेजा जाएगा। बैठक में उपस्थित समिति के सदस्यों ने कारगर तरीके से पूर्ण शराबबंदी किए जाने के सम्बंध में अपने-अपने सुझाव दिए। सचिव सह आयुक्त आबकारी निरंजन दास ने बैठक में बताया कि गुजरात, बिहार, मिजोरम, नागालैंड और केंद्र शासित राज्य लक्ष्यदीप में पूर्णता शराबबंदी है। जबकि कुछ राज्यों में शराबबंदी का निर्णय लिया गया था, लेकिन बाद में निर्णय को वापस लिया गया। समिति के अध्यक्ष सत्यनारायण शर्मा ने यह भी जानकारी दी की अब तक 50 से अधिक शराब दुकानों को बंद किया जा चुका है।