चांद पर इंसानी फतह का अपोलो 11 मिशन गूगल ने डूडल बनाकर किया याद

जनता से रिश्ता वेबडेस्क :- शुक्रवार को गूगल ने डूडल बनाकर चांद पर पहले सफल मानव मिशन को याद किया है. चांद पर अमेरिकी मिशन अपोलो 11 के 50 साल पूरे होने पर गूगल ने अपने बनाए डूडल में एक अंतरिक्ष यात्री को चांद पर उतरते दिखाया है. इसके साथ ही डूडल ने एक प्ले बटन भी दिया है. इस पर क्लिक करते ही एक वीडियो से मानव के चांद पर पहले कदम पड़ने के पूरे अभियान की जानकारी मिलती है. गौरतलब है कि अपोलो 11 मिशन 16 जुलाई 1969 को लांच किया गया था और चांद पर इंसान के पहले कदम आज के ही दिन यानी 20 जुलाई को पड़े थे.

क्या था देशांतर : चंद्रमा पर उतरने वाला पहला मानवयुक्त अंतरिक्ष यान 20 जुलाई, 1969 को दोपहर 3:17 बजे (अमेरिकी समयानुसार) उतरा था. जब अपोलो 11 लूनर मॉड्यूल, ईगल, ट्रेंक्विलेटिटिस में उतरा तो चांद 0 ° 4’5 “एन अक्षांश, 23/42 42’28” ई देशांतर पर स्थित था. ईगल निकटतम हाइलैंड से लगभग 50 किमी की दूरी पर और लगभग 180 मीटर डायमीटर में एक शार्प्ड रिम्ड खड्डे से लगभग 400 मीटर पश्चिम में उतरा था.

तीन अंतरिक्षयात्री गए थे मिशन पर
अपोलो 11 का मिशन प्लान मानव को चांद की सतह पर ले जाने और फिर उन्हें सुरक्षित रूप से पृथ्वी पर वापस लाने का था. यह 16 जुलाई, 1969 को कैनेडी स्पेस सेंटर लॉन्च कॉम्प्लेक्स 39 ए से 16 जुलाई 1969 की सुबह 08:32 बजे लांच हुआ. अंतरिक्ष यान में तीन चालक दलों को ले जाया गया. इसमें मिशन कमांडर नील आर्मस्ट्रांग, कमांड मॉड्यूल पायलट माइकल कोलिन्स और लूनर मॉड्यूल पायलट एडविन ई. एल्ड्रिन जूनियर शामिल थे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here