घर के मुख्य द्वार को वास्तुदोष से बचाने के लिए करें ये उपाय

जनता से रिश्ता वेबडेस्क:- लोग अपने घर के वास्तु को सही रखने के लिए अनेक उपाय करते हैं लेकिन अपने घर के मुख्य द्वार के वास्तु को ठीक करना भूल जाते हैं और इसी वजह से घर का वास्तु सही होने के बाद भी घर के सदस्यों को अनेक प्रकार की परेशानियों का सामना करना पड़ता है। आपको बता दें कि अगर घर का मुख्य दरवाजा सही न हो तो ये वास्तुदोष उत्पन्न करना है, ऐसे में इस वास्तुदोष को दूर करने की आवश्यकता होती है। आइए आपको बताते हैं कैसे घर के मुख्य द्वार के वास्तुदोष को दूर किया जा सकता है …………

अगर नैऋत्य कोण में मुख्य द्वार हो तो वास्तु के अनुसार इस दिशा में भारी लोहे के दरवाजे का उपयोग करें, इससे इस दिशा में मुख्य द्वार होने पर भी घर वास्तुदोष से बचा रहेगा। मुख्य द्वार का रंग गहरा होना चाहिए, इससे घर के अंदर नकारात्मक ​शक्तियां प्रवेश नहीं कर पाती हैं। अगर घर के मुख्य द्वार का मुंह तिराहे की ओर है तो दरवाजे के बाहर एक कोन्वेक्स शीशे का उपयोग करें। अगर घर में जगह हो तो दोष को कम करने के लिए वास्तुशास्त्र के अनुसार उत्तर दिशा में एक और दरवाज़ा बना लें इससे गल​त दिशा में बने मुख्य द्वार का दोष कम होता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here