खोज : सूर्य की सतह में बहती है एक रहस्यमय नदी जो बनाती है सौर धब्बे !

जनता से रिश्ता वेबडेस्क :- सूर्य के कई रहस्य है जिनकों वैज्ञानिक और खगोलियशास्त्रा सुलझाने की कोशिश कर रहे है। कई शोध के ज्ञात हुआ है कि सूरज पर एक पूर्व से पश्चिम की ओर बहने वाली एक गैस की नदी है जो इसकी सतह के निचे बहती है। सूरज से इसे देखा नही जा सकता है लेकिन यह सतह के निचे बहते हुये एक ध्वनि उत्पन्न करती है, जिससे इसकी उपस्थिति पता चलता है। इस नदी की एक खासियत है कि यह नदी बनती और विलुप्त होते रहती है। यह सूर्य के मध्य अक्षांशो पर बनती है और सौर चक्र के साथ सूर्य के विषुवत की ओर विस्थापित होते रहती है। वैज्ञानिकों ने इसकी जानकारी देते हुये बताया कि जब नदी बहती है तो ऊपर सौर धब्बो का निर्माण होता है। इन सौर धब्बो का अगला चक्र अगले कुछ वर्षो मे प्रारंभ होगा लेकिन इस नदी का निर्माण हो सकता है कि प्रारंभ हो गया हो। आरको बता दे कि अब तक इस नदी के निर्माण के कोई संकेत नही मिले है, जिससे वैज्ञानिको को लग रहा है कि अगला सौर चक्र विलंब से प्रारंभ हो सकता है। वैज्ञानिको के शोध के अनुसार चुंबकिय सौर धब्बो की औसत क्षमता भी पिछले वर्षो मे कम हो रही है।

वैज्ञानिकों ने बताया कि सौर धब्बो का निर्माण सूर्य के चुंबकिय क्षेत्र के सतह के उपर आ जाने से बनते है। इसकी एक प्रक्रिया होती है सूर्य के आंतरिक भाग से उठने वाली गैस ठंडी होकर वापिस निचे जाती है, लेकिन चुंबकिय क्षेत्र से प्रतिक्रिया करने के कारण यह ठंडी गैस निचे नही जा पाती है इस कारण से ठंडी गैस की चमक कम हो जाती है तो यह ठंडी गैस एक गहरे रंग के धब्बे के रूप मे देखते है। जिसे सौर धब्बों के नाम से जाना जाता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here