केंद्रीय जल संसाधन मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने, पाकिस्तान को मिलने वाली पानी पर रोक लगाएगी

जनता से रिश्ता वेबडेस्क | गोरखपुर: केंद्रीय जल संसाधन मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने सोमवार को कहा कि भारत ‘सिंधु जल संधि’ के अलावा पाकिस्तान को मिलने वाले अतिरिक्त पानी के प्रवाह पर रोक लगाएगा. शेखावत ने बताया, ‘‘भारत और पाकिस्तान के बीच ‘सिंधु जल संधि’ हुआ है, मगर भारत की नदियों से पाकिस्तान को भारी मात्रा में अतिरिक्त पानी मिल जाता है. केंद्र सरकार इस पर रोक लगाएगी, इसके लिए प्रक्रिया भी शुरू कर दी गई है.’’

शेखावत ने कहा, ‘‘रावी नदी के उस पार बहुत बड़ा इलाका फैला हुआ है और वहां जमा होने वाला बारिश का पानी नदियों के जरिए पाकिस्तान पहुंच जाता है. हम इस अतिरिक्त पानी को पाकिस्तान जाने से रोकेंगे क्योंकि इस पर भारतीय किसानों और आम लोगों का हक है. भारत के इस कदम पर किसी को कोई आपत्ति नहीं होनी चाहिए.’’

सितंबर 1960 में भारत और पाकिस्तान के बीच हुई ‘सिंधु जल संधि’ के तहत व्यास, रावी और सतलुज नदी पर भारत का जबकि सिंधु, चिनाब और झेलम नदियों पर पाकिस्तान का नियंत्रण है.

बता दें कि इससे पहले शेखावत ने कहा था कि किस तरह हम पाकिस्तान को जाने वाले अतिरिक्त पानी को रोककर उनका इस्तेमाल कर सकते हैं. जलग्रहण क्षेत्र के बाहर कुछ जलाशय और नदियां हैं. हम उनकी दिशा को मोड़ेंगे और जरूरत होने पर पानी का इस्तेमाल कर पाएंगे. आज हमारे सभी जलाशय भरे हुए हैं लेकिन हम पाकिस्तान जाने वाले पानी का अब इस्तेमाल कर सकते हैं और इसे रावी की ओर मोड़ देंगे.