कांग्रेस विकलांग सेवा प्रकोष्ठ के शिविर में संवर रहे मासूम बच्चों के विकृत चेहरे

जनता से रिश्ता वेबडेस्क:-   रायपुर. छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस विकलांग सेवा प्रकोष्ठ द्वारा पूर्व
प्रधानमंत्री राजीव गांधी की पुण्यतिथि के उपलक्ष्य में मंगलवार, 21 मई
को मुख्यमंत्री भूपेश बघेल एवं विधानसभा अध्यक्ष डॉ. चरणदास महंत के
मार्गदर्शन में चैबे काॅलोनी स्थित कालडा बर्न एवं प्लास्टिक सर्जरी
सेंटर में निःशुल्क शिविर का शुभारंभ हुआ। इस शिविर में होंठ व तालू की
जन्मजात विकृति से ग्रस्त गरीब परिवारों के बच्चों व बड़ों की मुफ्त
सर्जरी की शुरूआत हुई। प्रख्यात सर्जन डॉ. सुनील कालडा एवं उनके सहयोगी
चिकित्सकों द्वारा इस सात दिवसीय शिविर में अपनी सेवाएं प्रदान की जा रही
हैं। इस अवसर पर प्रदेश कांग्रेस विकलांग सेवा प्रकोष्ठ के प्रदेशाध्यक्ष
महेन्द्र कोचर सहित युवा समाजसेवी विजय चोपड़ा, महावीर मालू, विजय
भट्टाचार्य, प्रकाश पुजारा, भावेश सोनी एवं डाॅ. मुकेश शाह सहित अनेक
युवा समाजसेवी उपस्थित थे।
इस अवसर पर प्रकोष्ठ के अध्यक्ष महेन्द्र कोचर ने कहा कि प्रकोष्ठ के
माध्यम से और हमारे मार्गदर्शक मुख्यमंत्री भूपेश बघेल एवं डॉ. चरणदासजी
महंत के मार्गदर्शन में विकलांगों की सेवा-सहायता का कार्य पिछले 14
वर्षों से किया जा रहा है। अब तक राज्य के करीब 18 हजार निःशक्तजनों को
निःशुल्क जयपुर पैर, कृत्रिम हाथ, श्रवण यंत्र, बैसाखी, कैलीपर्स,
ट्रायसिकल प्रदान कर लाभान्वित किया जा चुका है. मगर विकलांगता कभी
समाप्त न होने वाली एक मानवीय पीड़ा है, जिसके लिए निरंतर कार्य करने की
आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि अभी भी हम अपने सेवा-सहायता को लेकर
जरूरतमंदों तक नहीं पहुंच पाये हैं. इस  सेवा कार्य के निरंतर संचालन के
लिए आप सबके सहयोग व संबल की हमें आवश्यकता है। उन्होंने कहा, समाज के
वरिष्ठजनों और विशेष रूप से मुख्यमंत्री भूपेश बघेल एवं छत्तीसगढ़
विधानसभा के अध्यक्ष डॉ. महंतजी की प्रेरणा का ही यह परिणाम है कि सेवा
के इस कार्य को हम यहां तक पहुंचाने में सफल हो पाये हैं। इस कार्य को
निरंतर गति प्रदान करना हमारा लक्ष्य है, जो आप बड़े-बुजुर्गों के
मार्गदर्शन और सेवाभावियों के योगदान से ही संभव हो सकेगा. इस अवसर पर
कटे-फटे होंठ व तालू की विकृति से ग्रस्त मरीजों व परिजनों के ठहरने और
भोजन का प्रबंध प्रदेश कांग्रेस विकलांग सेवा प्रकोष्ठ की ओर से किया
गया. पीडितों के होंठ व तालू की सर्जरी में प्रख्यात सर्जन डॉ. सुनील
कालडा एवं उनकी चिकित्सकीय टीम का अथक योगदान रहा.
कांग्रेस विकलांग सेवा प्रकोष्ठ के प्रदेशाध्यक्ष महेन्द्र कोचर ने बताया
कि प्रकोष्ठ की ओर से कटे-फटे होंठ व तालू की निःशुल्क सर्जरी के लिए आज
21 मई को देश के पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की पुण्यतिथि से लेकर यह
शिविर देश के प्रथम प्रधानमंत्री पं. जवाहरलाल नेहरू की पुण्यतिथि 27 मई
तक कालड़ा हॉस्पिटल में जारी रहेगा। इस शिविर के लिए अग्रिम पंजीयन
प्रारंभ है, जिसके लिए महेन्द्र कोचर से मोबाइल नंबर 98271-56004 पर
संपर्क किया जा सकता है। आयोजकों द्वारा कटे-फटे होंठ व तालू की जन्मजात
विकृति से ग्रस्त बच्चों के पालकों से शीघ्र संपर्क का अनुरोध किया गया
है।
छह माह के शिशु किशन के कटे होठ की हुई सर्जरी
आज इस निःशुल्क शिविर में ग्राम सरईपतेरा, थाना लोरमी, जिला मुंगेली से
श़त्रुघन व पिंकी अहिरवार अपने छह माह के बच्चे किशन को लेेकर शिविर में
पहुंचे। उन्होंने बताया, मासूम किशन का जन्म से ही होंठ हुआ और तालु खुला
हुआ है। तीन बच्चियों के बाद यह उनका पहला बेटा है। शिविर में आज मासूम
किशन के कटे होंठ का आॅपरेशन किया गया। चिकित्सकों ने बताया कि अभी बच्चे
का वनज और उम्र काफी कम होने की वजह से उसके तालू की सर्जरी वर्तमान में
नहीं की जा सकती। जब बच्चे का वनज 7-8 किलोग्राम हो जाएगा तब उसके तालू
की सर्जरी कर दी जाएगी। इस शिविर में प्रख्यात विशेषज्ञ डाॅ. सुनील कालड़ा
के साथ उनके सहयोगी चिकित्सकीय टीम से दीपक पाण्डेय, बंशीलाल साहू आदि
द्वारा सेवाएं प्रदान की जा रही हैं। शिविर के प्रथम दिवस धवलपुर जिला
कोरिया से परमेश्वर सिंह के दो वर्षीय पुत्र रोशन सिंह, ग्राम धनसुली के
8 माह के शिशु रिहान सईटोडे, ग्राम पुसउदा से लाई गई पांच साल की बालिका
सोड़ी हंगी और ग्राम पेडा-कोन्टा से लाए गए 3 वर्षीय बालक मदखान अमोस के
कटे-फटे होंठों की निःशुल्क सर्जरी की गई।