कांकेर: एक लाख की इनामी महिला नक्सली ने अपने 5 दिन के बच्चे के साथ किया आत्मसमर्पण

जनता से रिश्ता वेबडेस्क:- कांकेर। उत्तर बस्तर डिवीजन कांकेर में लोकल ऑर्गनाइजेशन स्क्वॉड (एलओएस) की एक लाख की इनामी महिला नक्सली ने अपने 5 दिन के बच्चे के साथ पुलिस के सामने आत्मसमर्पण किया है। कांकेर पुलिस अधीक्षक कन्हैया लाल ध्रुव ने बताया नक्सली महिला सुनीता उर्फ हूंगी कट्टम गश्त के दौरान जंगल के पास डीआरजी टीम को मिली थी। कांकेर एसपी ने सरेंडर करने वाली महिला नक्सली को 10 हजार रुपये की आर्थिक सहायता की है। इसके अलावा सुनीता को शासन की ओर से मिलने वाली मदद भी दी जाएगी।

माओवादी सुनीता उर्फ हूंगी कट्टम साल 2014 में नक्सली संगठन में भर्ती हुई। साल 2018 में सुकमा जिले के किस्टाराम थाना इलाके के मेट्टाम गांव के रहने वाले नक्सली मुन्ना मंडावी से शादी की। इस बीच सुनीता गर्भवती हो गई और उसे माओवादियों ने जंगल में ही उसके हाल पर छोड़ दिया।