ऑस्ट्रेलिया ने कोहली को लगातार 3 पारियों में एक ही तरीके से किया आउट

जनता से रिश्ता वेबडेस्क:- विराट कोहली मौजूदा समय के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज हैं. वे मौजूदा क्रिकेटरों में एकमात्र बल्लेबाज हैं, जिसने 50 से अधिक इंटरनेशनल शतक (63) जमाए हुए हैं. विराट साल 2018 में वनडे और टेस्ट क्रिकेट में सबसे अधिक रन बनाने वाले क्रिकेटर रहे. लेकिन लगता है कि ऑस्ट्रेलिया ने भारतीय कप्तान कोहली की कमजोरी ढूंढ़ ली है. उसने विराट कोहली को पिछली तीन पारियों में एक ही तरीके से आउट किया है. विराट कोहली ने शनिवार (12 जनवरी) को सिडनी में खेले गए वनडे मैच में महज तीन रन बनाकर आउट हुए. वैसे यह कोई ज्यादा चिंता की बात नहीं है कि वे जल्दी आउट हो गए. लेकिन वे जिस तरीके से आउट हुए, वह चिंता की बात हो सकती है. विराट कोहली के बारे में कहा जाता है कि वे गलती दोहराते नहीं. यदि आप उनके खेल को करीब से देख रहे हैं तो आपने देखा होगा कि पिछली तीन पारियों में उनके आउट होने का एक पैटर्न सा दिख रहा है. वे एक ही तरीके से आउट हो रहे हैं. विराट पिछली तीन पारियों में 3, 23 और 0 रन ही बना सके हैं.

सिडनी वनडे में शॉर्ट लेग पर लपके गए कोहली 
विराट ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पहले वनडे में उम्मीदों पर खरे नहीं उतरे. वे महज तीन रन बनाकर शॉर्ट लेग पर लपके गए. युवा गेंदबाज जाय रिचर्डसन ने कोहली को मार्कस स्टोइनिस के हाथों लपकवाया. कोहली के प्रशंसक या आलोचक भी, कह सकते हैं कि यह कमजोर शॉट था, या वे शॉट खेलते हुए जल्दबाजी कर गए लेकिन कोहली इसी तरीके से मेलबर्न और सिडनी टेस्ट में भी आउट हुए थे. ऐसे में यह तय है कि कोहली इसे सिर्फ संयोग के तौर पर नहीं ले रहे होंगे.

मेलबर्न टेस्ट में लेग गली एरिया में लपके गए 
विराट कोहली के आस्ट्रेलिया दौरे पर इस तरीके से आउट होने की शुरुआत मेलबर्न में खेले गए बॉक्सिंग डे टेस्ट में हुई. वे इस मैच की दूसरी पारी में खाता भी नहीं खोल सके थे. उन्हें पैट कमिंस ने मार्कस हैरिस के हाथों लेग गली के करीब कैच करवाया था. यह गेंद कमर की ऊंचाई पर आई, जिसे विराट ने फ्लिक किया. ऑस्ट्रेलियाई कप्तान टिम पेन ने इसके लिए स्पेशल फील्डर लगा रखा था, जिसने कैच लपकने में कोई गलती नहीं की  मजेदार बात यह कि कमिंस ने इस पारी में चेतेश्वर पुजारा को भी बिलकुल इसी अंदाज में आउट किया था.

सिडनी टेस्ट में विकेटकीपर ने लपका
टिम पेन ने विराट कोहली के लिए सिडनी में खेले गए चौथे टेस्ट में मेलबर्न की तर्ज पर ही फील्डिंग सजाई. वे अपनी योजना में कामयाब भी दिखे. विराट कोहली इस मैच में 23 रन बनाकर आउट हुए. उन्हें जोश हेजलवुड की गेंद पर विकेटकीपर टिम पेन ने लपका था. हेजलवुड की यह गेंद शॉर्टपिच और लेगस्टंप के बाहर थी. कोहली इसे फाइन लेग में ग्लांस करने गए और विकेटकीपर को कैच थमा बैठे.

आउट होने का यह तरीका महज इत्तफाक नहीं है 
सभी जानते हैं कि आधुनिक क्रिकेट में कोई भी टीम मैदान पर उतरने से पहले ही विरोधी बल्लेबाजों और गेंदबाजों के लिए अपना प्लान तैयार कर चुकी होती है. इसके लिए लंबी रिसर्च की जाती है और वीडियो एनालिसिस की मदद ली जाती है. ऐसे में विराट कोहली का लगातार 3 पारियों में एक तरीके से आउट होना महज इत्तफाक नहीं हैं. हां, यह उम्मीद की जा सकती है कि विराट इस बात को समझ रहे होंगे और वे अगली पारियों में ऐसी गलतियां नहीं दोहराएंगे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here