ऑस्ट्रेलिया ओपनर्स के नाम दर्ज हुआ 113 साल पुराना शर्मनाक रिकॉर्ड

जनता से रिश्ता वेबडेस्क | एशेज सीरीज 2019 अब समाप्त हो चुकी है। लंदन के ‘द ओवल’ मैदान में खेले गए पांचवे और अंतिम टेस्ट मैच में इंग्लैंड ने ऑस्ट्रेलिया को 135 रनों से मात दी। इसी के साथ एशेज सीरीज 2-2 पर ड्रॉ रही। इस सीरीज में इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया दोनों के लिए ही ओपनिंग पार्टनरशिप मुख्य चिंता का विषय रही। मैच के चौथे दिन यानि रविवार (15 सितंबर) को मार्कस हैरिस 18 रन बनाकर पवेलियन लौट गए। दोनों ही टीमों के ओपनर अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाए। इस दौरान 113 सालों में सब कम ओपनिंग पार्टनरशिप का रिकॉर्ड भी टूटा।

एशेज 2019 में पहली विकेट के लिए ऑस्ट्रेलिया का औसत 12.55 का रहा। इससे पहले 1906 में दक्षिण अफ्रीका और इंग्लैंड के बीच हुई 5 मैचों की सीरीज में पहली विकेट के लिए 14.16 का औसत रहा था। यानी 113 साल पुराना यह शर्मनाक रिकॉर्ड ‘द ओवल’ में टूट गया। ऑस्ट्रेलिया की तरफ से डेविड वॉर्नर और मार्कस हैरिस ने ओपनिंग संभाली और इंग्लैंड की ओर से स्टुअर्ट ब्रॉड ने आक्रामण संभाला। वॉर्नर को पिछली 9 पारियों में 6 बार ब्रॉड ने आउट किया है। वह इस पूरी सीरीज में संघर्ष करते नजर आए, लेकिन ब्राड ने अपने पांचवें ओवर की अंतिम गेंद पर पहले हैरिस को आउट किया।

ओवल में मेजबान टीम की जीत के साथ 1972 के बाद पहली बार कोई एशेज सीरीज ड्रॉ रही। ऑस्ट्रेलिया हालांकि एशेज ट्रॉफी अपने पास बरकरार रखेगा क्योंकि उसने दोनों देशों के बीच पिछली एशेज सीरीज जीती थी। इंग्लैंड के 399 रन के मुश्किल लक्ष्य पीछा करते हुए ऑस्ट्रेलिया की टीम मैथ्यू वेड (117) के शतक के बावजूद 77 ओवर में 263 रन पर ढेर हो गई। इंग्लैंड की ओर से बाएं हाथ के स्पिनर जैक लीच ने 49 जबकि तेज गेंदबाज स्टुअर्ट ब्रॉड ने 62 रन देकर चार-चार विकेट चटकाए। कामचलाऊ स्पिनर और कप्तान जो रूट ने भी 26 रन देकर दो विकेट हासिल किए। ऑस्ट्रेलिया की टीम हालांकि इस हार से निराश होगी, क्योंकि टीम 2001 के बाद पहली बार इंग्लैंड में एशेज सीरीज जीतने के प्रयास में जुटी थी।