ऐसी होंगी ‘मेड इन अमेठी’ AK-203 राइफलें

जनता से रिश्ता वेबडेस्क :–  अमेठी/लखनऊ –  पीएम नरेंद्र मोदी ने रविवार को यूपी के अमेठी जिले में स्थित कोरवा ऑर्डिनेंस फैक्टरी में AK सीरीज की सबसे अत्याधुनिक राइफल एके-203 के निर्माण की योजना का औपचारिक उद्घाटन किया। इन राइफल्स के निर्माण के लिए भारत सरकार ने रूस की एक कंपनी के साथ करार किया है जो कि जॉइंट वेंचर के रूप में अमेठी में करीब 7.50 लाख असॉल्ट राइफलों का निर्माण करेगी। इन राइफलों को भारतीय सेना के जवानों को इस्तेमाल के लिए दिया जाएगा। आने वाले वक्त में ये बंदूकें फिलहाल इस्तेमाल हो रही एके-47 और इंसास राइफल की जगह ले लेंगी

शुरुआती तौर पर इन बंदूकों को भारतीय सेना, एयरफोर्स, नेवी के जवानों को दिया जाएगा। इसके बाद अर्धसैनिक बल और राज्य पुलिस के जवानों तक भी ये बंदूकें पहुंचाई जाएंगी। आने वाले सालों में पुलिस से लेकर सेना तक सभी इस अत्याधुनिक हथियार का इस्तेमाल करते नजर आएंगे। रूस से हुए इस समझौते के अलावा रक्षा मंत्रालय ने सुरक्षाबलों के लिए 7.69 एमएम 59 कैलिबर की अडवांस असॉल्ट राइफल की सप्लाई के लिए भी अमेरिका की एक फर्म से करार किया है। यह राइफल उन जवानों को दी जाएगी, जो कि देश के अलग-अलग हिस्सों में काउंटर इंसर्जेंसी ऑपरेशंस की जिम्मेदारी संभाल रहे हैं।

मेक इन इंडिया अभियान के तहत होगा निर्माण
रक्षा मंत्रालय जल्द से जल्द देश की सरहदों और संवेदनशील इलाकों में तैनात जवानों को अत्याधुनिक असलहे उपलब्ध कराने की दिशा में काम कर रहा है। मंत्रालय का मानना है कि एलओसी और सीमा पर आतंकियों और पाकिस्तानी सेना से होने वाले संघर्ष के मद्देनजर यहां तैनात जवानों को सबसे अत्याधुनिक हथियार दिए जाएं, इसके अलावा अन्य सुरक्षाबलों को उनकी जरूरत के अनुसार अत्याधुनिक असलहे मुहैया कराए जाएंगे। सरकार के निर्णय के अनुसार, भारत-रूस राइफल्स प्रा. लिमिटेड अमेठी के कोरवा ऑर्डिनेंस फैक्टरी में एके-203 राइफलों का निर्माण करेगा। इन हथियारों का निर्माण ‘मेक इन इंडिया’ अभियान के तहत होगा।

एक मिनट में 600 गोलियां दागी जा सकेंगी
बता दें कि सुरक्षाबलों को दी जाने वाली इस राइफल को पूरी तरह से लोड किए जाने के बाद कुल वजन 4 किलोग्राम के आसपास होगा। इसमें एके-47 की तरह ऑटोमैटिक और सेमी-ऑटोमैटिक दोनों तरह के वैरियंट मौजूद होंगे। हाइटेक एके-203 राइफल से एक मिनट में 600 गोलियां दागी जा सकेंगी और इससे 400 मीटर की दूरी पर मौजूद किसी दुश्मन पर अचूक निशाना लगाया जा सकेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here