ईओडब्ल्यू की लंबी पूछताछ में कहा रेखा नायर : ‘इंटरसेप्शन से जुड़े अहम दस्तावेजों में मेरी कोई भूमिका नहीं’

जनता से रिश्ता वेबडेस्क :- रायपुर- आज एक बार फिर फोन टेपिंग मामले को लेकर ईओडब्ल्यू ने रेखा नायर से लंबी पूछताछ की. तीन घंटे से ज्यादा समय तक चली पूछताछ के दौरान रेखा नायर ने इंटरसेप्शन में अपनी भूमिकाओं को सिरे से खारिज कर दिया. ईओडब्ल्यू से जुड़े सूत्र बताते हैं कि इंटरसेप्शन से जुड़े अहम दस्तावेजों को नायर के सामने रखा गया, जिससे उसने पल्ला झाड़ लिया.EOW  ने इंटरसेप्शन का काम बखूबी किए जाने के ऐवज में तत्कालीन डीजी मुकेश गुप्ता द्वारा दिए जाने वाले नगद इनाम से जुड़े सवाल भी रेखा नायर से पूछे, जिस पर अपने जवाब में नायर ने कहा कि वह ऐसे किसी भी नगद इनाम के बारे में नहीं जानती. दिसंबर 2013 से नवंबर 2018 के बीच कई बार रेखा नायर को बेहतर काम करने के ऐवज में नगद राशि देकर पुरस्कृत किया गया. दस्तावेज़ बताते हैं कि मुकेश गुप्ता ने ये इनाम उन्हें इंटरसेप्शन के काम को बखूबी अंजाम देने के ऐवज में दिया था. ये आदेश हर महीने मुकेश गुप्ता के हस्ताक्षर से जारी होते थे.